जागरण टीम, रुद्रपुर/काशीपुर : थाने और चौकियों में आने वाले शिकायतों का प्राथमिकता से निस्तारण करें। साथ ही अपराध पर अंकुश लगाने के लिए बाहरी और स्थानीय संदिग्धों का सत्यापन किया जाए।

यह बात एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने कही। शनिवार को वह पुलिस लाइन में अपराध समीक्षा बैठक ले रहे थे। इस दौरान एसएसपी ने कहा कि पुलिस विभाग समाज की सुरक्षा, शांति व समाज में व्याप्त बुराइयों को समाप्त करने के साथ-साथ जनता की शिकायतों के निस्तारण के लिए बना है। पुलिस अपना कार्य पूर्ण निष्ठा एवं समर्पण से करते हुए शिकायतों का शत-प्रतिशत निवारण करे। गरीब, असहाय और पीड़ित जो भी थाने में आए उसे सुरक्षा व न्याय दें। एसएसपी ने मादक पदार्थो व अवैध शराब, कच्ची व नकली शराब बनाने तथा बेचने वालों पर कार्रवाई के निर्देश दिए। उन्होंने थानाध्यक्षों और चौकी प्रभारियों को आंतरिक व बाहरी संदिग्धों का सत्यापन करने को भी कहा। एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने सुबह नौ बजे से 11 बजे व शाम चार बजे से आठ बजे तक चेकिग अभियान चलाने के भी निर्देश दिए। बैठक में एसपी सिटी ममता बोहरा, एसपी क्राइम मिथिलेश सिंह, एसपी काशीपुर प्रमोद कुमार, सीओ अमित कुमार, सीओ भूपेंद्र सिंह भंडारी मौजूद थे।

इधर, काशीपुर में मारपीट के आरोपित के खिलाफ कार्रवाई न होने से खफा महिलाओं ने शनिवार को एसपी कार्यालय पहुंच कर कार्रवाई की गुहार लगाई। मोहल्ला महेशपुरा निवासी अब्दुल रब पुत्र अब्दुल गनी ने पिछले दिनों पुलिस में तहरीर देकर बताया था कि मकान निर्माण के दौरान रंजिशन पड़ोसी दो भाइयों ने गाली-गलौच करते हुए छच्जा डालने का विरोध किया। मौके पर मौजूद महिलाओं ने ऐसा करने से मना किया तो उन्होंने तबस्सुम पत्नी बख्तर को लहुलूहान कर दिया। साथ ही तमंचा लहराते हुए जान से मारने की धमक दी। इस मामले में अभी तक केस दर्ज नहीं हो सका है। इससे खफा महिलाओं ने शनिवार को एसपी कार्यालय पहुंचकर कार्रवाई की गुहार लगाई। इस दौरान रानी चौधरी, गीता चंद्रा, शमीम जहां, सारिका आदि महिलाएं मौजूद रहीं।

Edited By: Jagran