संवाद सहयोगी, खटीमा : विधायक पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि भारत-नेपाल के बीच पुरातन काल से रोटी-बेटी के मैत्रीपूर्ण संबंध रहे हैं। आपसी राजनीतिक समझबूझ से इन संबंधों को और प्रगाढ़ बनाया जाएगा।

विधायक शनिवार को पड़ोसी देश नेपाल के तीन दिवसीय भ्रमण के बाद वापस लौटे। नेपाल प्रवास के दौरान उन्होंने राजधानी काठमांडू में कामाख्या ट्रस्ट की ओर से आयोजित श्रीमद भागवत विराट ज्ञान महायज्ञ में सहभागिता की। उन्होंने नेपाल के सांसद, विधायक व क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों से द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा की। वार्ता के दौरान मैत्री संबंधों को और मजबूत बनाने पर जोर दिया गया। इसके अलावा पंचेश्वर बांध, ड्राईकोट, महेंद्रनगर नेपाल से दिल्ली, देहरादून तक सीधी बस सेवा संचालित करने, शारदा नदी पुल के अलावा विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई। धामी ने बताया कि पड़ोसी देश के नेताओं से उनकी सौहार्दपूर्ण माहौल में सकारात्मक वार्ता हुई। जिसके सार्थक परिणाम सामने आएंगे। इस मौके पर नेपाल की पूर्व उप प्रधानमंत्री सांसद सुजाता कोईराला, केंद्रीय वन मंत्री शक्ति वंनसेत, नरोत्तम वैध, प्रकाश मान सिंह, दीपक भट्ट, नवराज सिलवाल, एनपी साउथ, सर्वेंद्र, खनालजी, झपट बहादुर बोरा, लेखराज भट्ट के अलावा भाजपा मंडल अध्यक्ष हिमांशु बिष्ट आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran