संवाद सहयोगी, पंतनगर : पं. जीबी पंत का मन पहाड़ जैसा और व्यक्तित्व हिमालय जैसा विराट था। यह बात विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल ने कही। वह जीबी पंत विवि में भारत रत्‍‌न पं. गोविंद बल्लभ पंत की 131वीं जयंती पर आयोजित कार्यक्रम को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे।

सोमवार को रतन सिंह आडीटोरियम में आयोजित कार्यक्रम में प्रेम चंद अग्रवाल ने कहा कि भारत रत्‍‌न पंत जी का योगदान देश की आजादी में तो रहा ही, पहाड़ से जमींदारी प्रथा को समाप्त करने में भी उन्हें हमेशा याद किया जाएगा। क्षेत्रीय विधायक राजेश शुक्ला ने उन्हें तराई का सच्चा सपूत बताया। इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष को शॉल ओढ़ाकर व स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया गया।

इससे पूर्व सुबह पंत पार्क पर कुलपति प्रो. एके मिश्रा सहित सभी अधिष्ठाताओं, निदेशकों, अधिकारियों, कर्मचारियों व विद्यार्थियों ने पं. पंत की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उनको श्रद्धा सुमन अर्पित किए। बालनिलयम शिशु विद्यालय के विद्यार्थियें ने रामधुन का गायन किया। सीडीओ डॉ. आलोक कुमार पांडे, एसडीएम युक्ता मिश्रा, भाजपा के विवेक सक्सेना, अमित नारंग, डीएन यादव, आरके शर्मा आदि भी मौजूद रहे। इस अवसर पर पंत भवन द्वारा पंत जयंती सप्ताह के दौरान आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं के पुरस्कारों का वितरण भी किया गया। बाक्स में

स्कूलों में भी मनी जयंती

क्षेत्र के विभिन्न स्कूलों में भी पंत जयंती की धूम रही। सरस्वती शिशु मंदिर में भाषण, गीत, प्रश्न मंच, कला, सुलेख, श्रुतिलेख, एथलेटिक प्रतियोगिता का आयोजन किया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि डॉ. पीएस शुक्ला, डॉ. विश्वनाथ, सत्येंद्र सिंह, रामपाल, ईश्वर पाल सिंह चौहान, आत्माराम कुशवाहा आदि मौजूद रहे। इसके अलावा कैम्पस स्कूल, प्राइमरी स्कूल फूलबाग, बाल निलयम स्कूल व इंटर कालेज, जीजीआईसी में भी कार्यक्रम आयोजित किए गए।

Posted By: Jagran