जागरण संवाददाता, रुद्रपुर :

फर्जी कागजात से वाहन फाइनेंस कराने वाले गिरोह के सरगना अन्नू गंगवार से पुलिस ने रिमांड के दौरान बाइक समेत चार कार बरामद कीं। वाहनों की बरामदगी के बाद पुलिस ने उसे जेल भेज दिया है।

कुछ माह पहले रुद्रपुर कोतवाली में भदईपुरा वार्ड नंबर चार निवासी प्रेम प्रकाश, लोकेश यादव और पुष्पेंद्र ¨सह के खिलाफ फर्जी दस्तावेजों के आधार पर वाहन और मोबाइल फोन फाइनेंस कराने का मुकदमा दर्ज हुआ था। इस दौरान पुष्टि हुई थी कि गिरोह का मास्टर माइंड भदईपुरा निवासी अन्नू गंगवार है। 30 अगस्त को पुलिस ने बगवाड़ा से अन्नू को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। साथ ही उसकी रिमांड के लिए आवेदन किया था। शनिवार को दो दिन की रिमांड मिलने के बाद पुलिस ने उससे फाइनेंस कराए गए वाहनों के संबंध में पूछताछ की। कोतवाल कैलाश भट्ट ने बताया कि अन्नू की निशानदेही पर पुलिस ने भदईपुरा से बाइक और कार बरामद की। बाद में उसके पीलीभीत निवासी चाचा के घर से भी दो कार बरामद कीं। तीन कार और एक बाइक बरामदगी के बाद रिमांड अवधि पूरी होने पर सोमवार को पुलिस ने वापस जेल भेज दिया। इंसेट-

रिमांड में दोबारा ले सकती है पुलिस

पुलिस के मुताबिक बरामद वाहन फाइनेंस के हैं या नहीं, इसकी जांच की जा रही है। वाहन फाइनेंस के होने पर अन्नू को दोबारा पुलिस रिमांड पर ले सकती है।

Posted By: Jagran