संवाद सहयोगी ,बाजपुर : बिजली चोरी रोकने के लिए चेकिग करने गई ऊर्जा निगम की टीम पर सात-आठ लोगों ने हमला कर दिया। इतना ही नहीं, तीन मोबाइल फोन छीनकर अधिकारियों को बंधक बनाने का प्रयास भी किया गया। उन्होंने किसी तरह अपनी जान बचाई। देर शाम मामले को लेकर पुलिस चौकी बरहैनी पहुंचे अवर अभियंता 33/11 केवीए उप केंद्र फौजी कॉलोनी धीरज सैनी की ओर से नामजद तहरीर देते हुए कार्रवाई की मांग की गई।

अवर अभियंता धीरज के अनुसार बिजली चोरी पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से वह टीम के साथ शुक्रवार दोपहर बाद करीब डेढ़ बजे बिराहा फार्म चेकिग करने गए थे। वह रवतेज सिंह पुत्र बलदेव सिंह के आवास पर पहुंचे, जहां मौके पर मौजूद समरपाल की मौजूदगी में बिजली चेकिग करने लगे। इसी दौरान अपने 7-8 अन्य साथियों के साथ पहुंचे आरोपित ने गाली-गलौज करते हुए मारपीट शुरू कर दी। तीन मोबाइल फोन छीन उन्हें जबरन घर में बंद कर ताला लगाने का प्रयास भी किया गया। उन्होंने किसी अपनी जान बचाई। देर सायं मामले को लेकर पुलिस चौकी बरहैनी पहुंचे अवर अभियंता धीरज सैनी ने नामजद तहरीर दी। तहरीर में आरोपित पर विद्युत चेकिग के दौरान कार्य में बाधा उत्पन्न करने, मोबाइल छीनने एवं हाथापाई करने आदि का आरोप लगा कार्रवाई की मांग की है। टीम में सहायक अभियंता सतर्कता राकेश कुमार सिंह व ओपी शर्मा, लाइनमैन अनिल कुमार व अजय कुमार, संतोष कुमार आदि शामिल थे। वहीं समाचार लिखे जाने तक मामला दर्ज नहीं हुआ था, अलबत्ता सीओ कमला बिष्ट मामले की जांच कर रही हैं तथा बरहैनी पुलिस चौकी में तहरीर के अधार पर ममाला दर्ज करने की बात कही जा रही है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप