जागरण टीम, रुद्रपुर/बाजपुर : लोनिवि में 11 सूत्रीय मांगों को लेकर दो घंटे के कार्य बहिष्कार के क्रम में कर्मचारियों ने प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि बार-बार आंदोलन के बाद सरकार मांगों को नहीं मान रही है। एरियर भुगतान, स्थानांतरण नीति व पुरानी पेंशन बहाली को लेकर कर्मचारी लगातार आंदोलन कर रहे हैं।

मिनिस्ट्रीयल फेडरेशन के क्षेत्रीय अध्यक्ष धीरेंद्र पाठक व महामंत्री सौरभ चंद्र ने गुरुवार को प्रदर्शन के दौरान कहा कि प्रदेश सरकार लगातार मांगों को लेकर उदासीनता बरत रही है। जबकि कई बार मांगों को लेकर आश्वासन दिया जा चुका है। इस बार आर-पार की लड़ाई लड़ी जाएगी। प्रदर्शन में मोहन सिंह राठौर ने कहा कि सभी 11 सूत्रीय मांगों में पुरानी पेंशन बहाली सहित स्थानांतरण नीति को लेकर कर्मचारियों की शंकाओं को दूर नहीं किया गया। प्रदर्शन करने वालों में जनपदीय महामंत्री कंचन कुमार आर्य, चारू पंत, गीता जोशी, अनिल गुप्ता, दीपू सिंह, परशुराम, मदनमोहन जोशी, शोभा सक्सेना, गीता मौर्य, गोपाल सिंह मौजूद थे। खनन वाहनों की गति नियंत्रित कराएं

संवाद सहयोगी, बाजपुर : बन्नाखेड़ा के ग्रामीणों ने जिलाधिकारी को ज्ञापन प्रेषित करके खनन वाहनों की गति नियंत्रित करवाने की मांग की। ज्ञापन देने वालों में मित्रपाल यादव, बचन सिंह, अशोक, मदन वर्मा, गोपाल सिंह, नंदन सिंह, हरिओम सिंह, दीपक कुमार, विनोद कुमार, राधे सिंह शामिल रहे। सभी ने बताया कि सड़क किनारे भवन बने हुए हैं। यहां से कोसी नदी, दाबका से रेता-बजरी उपखनिज लेकर सैकड़ों वाहन प्रतिदिन तेज गति से निकलते हैं। इससे प्रदूषण से घर में रहना मुश्किल हो गया है। उक्त लोगों ने वाहनों के लिए वैकल्पिक मार्ग चुनने या शहरी क्षेत्र में 15 किलोमीटर की गति सीमा निर्धारित कर स्पीड ब्रेकर हटाने की मांग की।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021