किच्छा, [जेएनएन]: सिरोली थाना पुलभट्टा में गर्भवती महिला की मौत पर अंतिम संस्कार के बाद मायका और ससुराल पक्ष आपस में भिड़ गया। इस दौरान महिलाओं में ईंट पत्थर भी चले। जिससे मायके पक्ष की महिलाओं ने कोतवाली पुलिस की शरण ली। उन्होंने उपचार में लापरवाही का आरोप लगाया। 

दरअसल, सिरोली थाना पुलभट्टा में गर्भवती महिला की मौत हो गयी थी। जिसकी सूचना बरेली उसके परिजनों को दे दी गयी। शुक्रवार को रीतिरिवाज के साथ महिला का अंतिम संस्कार कर दिया गया। जिस दौरान पुरुष घाट पर अंतिम संस्कार के लिए गए थे उस दौरान आस पड़ोस की महिलाओं द्वारा उपचार को लेकर कानाफूसी से माहौल गर्म गया। आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हुआ तो एक दूसरे पर ईंट पत्थरों की बरसात होने लगी। जिस पर मृतका के मायके पक्ष की महिलाएं कोतवली पहुंच गयी। 

बदहवास हालात में पहुंची महिलाओं को देखकर एसएचओ एमसी पांडेय ने तुरंत फोर्स भेज दिया। मौके पर दोनों पक्षों को सुनने के बाद पुलिस की समझ में सारा माजरा आ गया। इस दौरान मृतक के पति ने उपचार के सारे कागज पुलिस को दिखाए। साथ ही जबरन उसके तीन साल के बेटे को अपने साथ ले जाने का भी आरोप लगाया। पुलिस के पहुंचने के बाद दोनों के गिले शिकवे आपस में ही दूर कर लेने पर पुलिस ने भी राहत की सांस ली।

यह भी पढ़ें: ससुरालियों ने पीट-पीट कर विवाहिता को मौत के घाट उतारा

यह भी पढ़ें: निरंकारी सत्संग भवन के मैदान में मिले दो शव, फैली सनसनी

यह भी पढ़ें: बहन के देवर ने की आशीष की हत्‍या, पुलिस ने किया गिरफ्तार  

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस