संसू, नानकमत्ता : रंसाली जंगल में संदिग्ध महिला देखे जाने के बाद अलर्ट पर आई खुफिया व पुलिस टीम ने शनिवार को कांबिग कर जंगल को खंगाला। महिला नेपाली बताई जा रही है। उसे माओवाद से जोड़कर माना जा रहा है।

रनसाली रेंज में 23-24 नवंबर को संदिग्ध नेपाली महिला ग्रामीणों को दिखी थी। इसके बाद से खुफिया तंत्र सतर्क हो गया था। इसके बाद शनिवार को एसएसपी के निर्देश पर एल आईयू के उपनिरीक्षक लोकेश सिंह के साथ नानकमत्ता पुलिस व सितारगंज पुलिस व एक सेक्शन पी एसी जवानों ने रंसाली जंगल की कांबिग की।

जंगल के आस पास रहने वाले ग्रामीणों से महिला के बारे मे जानकारी ली गई। जंगल मे रहने वन गूजर याकूब, गुलाम नवी,तथा याशीन से महिला के देखे जाने के बारे मे पूछताछ की गई। करीब चार घंटे की सघन कांबिंग दर्जनों लोगों से पूछताछ की गई, लेकिन कोई पता नहीं चला ।

कांबिग नानकमत्ता एलआइयू उपनिरीक्षक विश्वराज, एसआइ साबिर खान, एसआई सुरेंदर सिहं, ललित चौधरी, एसआई मनोज कुमार, वन विभाग से नवल किशोर डिप्टी रेंजर डीके सिंह, गणेश पांडे उत्तम सिह राणा, गुरमेज सिंह, गिरीश वर्मा आदि शामिल थे।

Posted By: Jagran