जागरण संवाददाता, रुद्रपुर : करोड़ों के एनएच मुआवजा घोटाले में एसआइटी ने चार और किसानों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर दी है। अब तक एसआइटी पूरे प्रकरण में जहां 30 से अधिक अधिकारी और कर्मचारियों के साथ ही किसानों को गिरफ्तार कर चुकी है। वहीं, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष समेत 111 लोगों के खिलाफ न्यायालय में आरोप पत्र भी दाखिल कर चुकी है।

बता दें कि एनएच-74 निर्माण के दौरान किसानों ने अधिकारियों और कर्मचारियों से मिलीभगत कर बैक डेट पर जमीन की 143 कर करोड़ों का मुआवजा हड़पा था। इसकी पुष्टि हुई तो मार्च 2017 में सिडकुल चौकी में एनएच-74 मुआवजा घोटाले का मुकदमा दर्ज किया गया था। इसके बाद एसआइटी का गठन कर जांच शुरू कर दी गई थी। जांच के दौरान 211 करोड़ से अधिक के घोटाले की पुष्टि हुई। इस पर एसआइटी ने घोटाले में शामिल छह पीसीएस अधिकारी समेत 30 से अधिक अधिकारी, कर्मचारी, किसान, बिचौलिएं और बिल्डर्स को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। साथ ही कुछ किसानों ने न्यायालय में सरेंडर भी किया था। वहीं, करीब 36 से अधिक किसान एसआइटी की कार्रवाई से फरार हो गए थे। इस पर एसआइटी ने फरार किसानों के खिलाफ एनबीडब्ल्यू लिया। फरवरी और मार्च माह में एसआइटी ने पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष ईश्वरी प्रसाद गंगवार और उनके पुत्र समेत कई फरार किसानों के खिलाफ न्यायालय में चार्जशीट दाखिल कर दी थी।

इधर, एक बार फिर एसआइटी ने काशीपुर निवासी बलजीत कौर, दलविदर सिंह, गगनदीप कौर और कुलदीप कौर के खिलाफ न्यायालय में चार्जशीट दाखिल कर दी है। एसआइटी अधिकारियों के मुताबिक एनएच मुआवजा घोटाले में अब तक 111 लोगों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की जा चुकी है। कुछ और किसानों के खिलाफ भी जल्द चार्जशीट दाखिल की जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस