काशीपुर, उधमसिंह नगर [जेएनएन]: कोरियर कंपनी का शटर तोड़कर चोर गल्ले से करीब 10 लाख रुपये चुरा ले गए। सूचना पर पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। आनन फानन पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली। इधर, सूचना मिलते ही फ्रेंचाइजी स्वामी भी मौके पर पहुंच गए। पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालने में लगी है।

ग्राम नाद, थाना शिवनगर, जिला रोहताश बिहार निवासी मनोज कुमार पांडेय पुत्र सूर्यवंश पांडेय ने देहलीवेरी प्राइवेट लिमिटेड कोरियर सेवा की फ्रेंचाइजी ले रखी है। इसकी एक ब्रांच आर्यनगर स्थित हिमालयन पब्लिक स्कूल के पास सुरेंद्र रहेजा के मकान में खुली है। 

मनोज गंगापुर रोड कौशल्या एन्क्लेव रुद्रपुर में रहते हैं, जबकि काशीपुर ब्रांच का टीम लीडर ग्राम ओराई, मुज्जफरपुर, बिहार निवासी अमरेश कुमार यहां कलश मंडप रोड पर किराये पर कमरा लेकर रहता है। 

अमरेश ने बताया कि दो दिन से बैंक बंद थे। इसलिए कोरियर की रकम बैंक में जमा नहीं हो पाई थी। गल्ले में करीब 10 लाख रुपये रखे थे।

शुक्रवार की रात वह नौ बजे ब्रांच बंद कर घर चला गया था। शनिवार सुबह मकानस्वामी ने शटर खुला देखा तो फोन कर अमरेश को इसकी सूचना दी। इसके बाद वह वहां पहुंचे तो गल्ले से नकदी गायब थी। यह देख उसके होश उड़ गए। आनन फानन घटना की सूचना उसने पुलिस व फ्रेंचाइजी स्वामी मनोज को दी। 

सूचना पर एसएसआइ द्वितीय एसएस बिष्ट, बांसफोड़ान पुलिस चौकी इंचार्ज जयपाल चौहान, कटोराताल पुलिस चौकी इंचार्ज दिनेश बल्लभ ने टीम के साथ मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली। इधर, फ्रेंचाइजी स्वामी भी मौके पर पहुंच गए। चोर सीसीटीवी कैमरों की डीवीआर भी निकालकर साथ ले गए। पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालने में जुटी है। 

यह भी पढ़ें: मोबाइल और पर्स लूट की चार घटनाओं के दो आरोपित दबोचे

यह भी पढ़ें: उच्च शिक्षा मंत्री के कुक से चाकू की नोक पर लूट

यह भी पढ़ें: चोर गिरोह के पांच सदस्य गिरफ्तार, दो चोरियों का खुलासा

Posted By: Bhanu