संवाद सहयोगी, खटीमा : कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा पर कर्नाटक में लोकतंत्र की हत्या करने का आरोप लगाते हुए तहसील में प्रदर्शन किया। राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजकर लोकतंत्र की बहाली की मांग की।

कांग्रेस कार्यकर्ता शुक्रवार को तहसील पहुंचे। प्रदर्शन कर केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। एसडीएम को ज्ञापन देकर कहा कि कर्नाटक में कांग्रेस व जेडीएस ने मिलकर सरकार बनाने का दावा किया था। इसके लिए बकायदा विधायकों का हस्ताक्षर युक्त दावा भी राज्यपाल के समक्ष पेश किया गया। बावजूद इसके राज्यपाल ने संविधान की अनदेखी कर भाजपा को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया। इतना ही नहीं आनन-फानन में भाजपा के मुख्यमंत्री को शपथ ग्रहण भी करा दी गई। जबकि पूर्व में कई राज्यों में सबसे बड़े दल के रूप में उभरकर सामने आने के बाद भी अन्य पार्टियों की सरकारें नहीं बनने दी गई। इस मौके पर युवक कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष भुवन कापड़ी, ब्लॉक अध्यक्ष बॉबी राठौर, राशिद अंसारी, पंकज टम्टा, नासिर खान, दयाकिशन कलौनी, गोपाल चंद, हिमांशु तिवारी, रवीश भटनागर, विमला मुडेला, कृष्णा नेगी, संगीता राना, लीला चंद, बीना राणा आदि मौजूद थे।

By Jagran