संवाद सूत्र, दिनेशपुर : विवाहिता की मौत की खबर से मायके पक्ष के लोगों ने थाना प्रभारी का घेराव कर दोषी के खिलाफ कार्यवाही की मांग की। पुलिस के पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई के आश्वासन पर लोग शांत हुए।

शुक्रवार को ग्राम पिपलिया न. 1 निवासी साधन मैत्र पुत्र नारायण मैत्र ने थाने में तहरीर देकर आरोप लगाया कि उसने अपनी पुत्री पल्लवी का विवाह 4 दिसंबर 2017 को ¨हदू रीति रिवाज से ग्राम श्रीरामपुर निवासी गो¨वद हालदार पुत्र रमेश हालदार के साथ हुआ था। आरोप था कि पुत्री का पति गो¨वद हालदार, सास पारूल हालदार, देवर रंजन हालदार आए दिन दहेज की मांग करते हुए नगदी व सोने के लिए प्रताड़ित करते थे। जब कि उसकी पुत्री पल्लवी 6 माह की गर्भवती भी थी। साधन ने यह भी आरोप लगाया कि गुरुवार की रात्रि तीनों ने मिलकर उसकी पुत्री के खाने में जहरीला पदार्थ पिलाकर हत्या कर दी। दामाद गो¨वद ने देर रात फोन से सूचना दी कि उसने आत्महत्या कर ली है। सूचना मिलने पर एसडीएम विवेक प्रकाश व थाना प्रभारी इंस्पेक्टर कुंवर ¨सह रावत पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। सूचना मिलते ही विवाहिता के मायके के लोग थाने आ धमके। उन्होंने थाना प्रभारी इंस्पेक्टर रावत का घेराव किया। रावत ने लोगों से कहा कि मामले की जांच चल रही है, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आते ही आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी। घेराव करने वालों में पूर्व प्रधान आशीष बाला, हर्ष मंडल, राकेश बाला, ओमियो कुमार, जयदेव राह, ज्योतिष बाला, विमल कुमार, चंदन बाला आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran