जासं, काशीपुर : एक श्रमिक ने दो लोगों पर धोखाधड़ी कर खाते से 57 हजार निकालने का आरोप लगाया है। पुलिस को तहरीर देने के बाद भी कोई कार्रवाई न होने पर श्रमिक ने मुख्यमंत्री से हस्तक्षेप की गुहार लगाई है।

कुंडेश्वरी चौकी क्षेत्र के ग्राम हरिनगर निवासी श्रमिक रेवतीशरण ने मुख्यमंत्री को भेजे शिकायती पत्र में कहा कि वह पेशे से मजदूर है। चौकी क्षेत्र निवासी एक व्यक्ति ने निजी कंपनी में उसका खाता खुलवाया था। कुछ समय बाद कंपनी बंद हो गई। कई महीने बाद वह उसके घर आया और बोला कि कंपनी में जमा पैसा वापस ले लो। इसके लिए उसने आधार कार्ड, बैंक पासबुक, दो पासपोर्ट साइज फोटो मांगे। आरोपित ने उससे सादे पेपर में अंगुठे लगवा लिए और भरोसा दिलाया कि 10 दिन के अंदर कंपनी में जमा रकम वापस मिल जाएगी। 10 दिन के बाद जब वह अपने दस्तावेज लेने गया तो आरोपित ने अभी काम नहीं होने की बात कहकर कागजात देने से मना कर दिया। बताया कि 12 जुलाई को उसका पुत्र बैंक पासबुक में इंट्री कराने गया तो उसके बैंक खाते से अलग-अलग तारीख में रुपये निकाले गये थे। आरोप लगाया कि जनसेवा केंद्र के माध्यम से आरोपित ने खाते से 56 हजार 910 रुपये निकाल लिए। कहा कि 21 मई से चार जुलाई 2020 तक रुपये निकाले गण् हैं। 21 जुलाई को मामले की तहरीर कुंडेश्वरी चौकी में दी गई, जिस पर कोई कार्रवाई नही हुई।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस