जासं,काशीपुर : सब्जी मंडी में मंगलवार की देर हुए अग्निकांड में 64 दुकानें पूरी तरह से खाक हो गई हैं। बुधवार को घटना से व्यथित दुकानदार राजस्व टीम का इंतजार करते रहे। इस दौरान राजनीतिक पार्टियों से जुड़े नेताओं व वरिष्ठ अधिकारियों ने मौके पर प्रभावित लोगों से मिलकर उन्हें आश्वासन दिया। राजस्व टीम ने दोपहर पहुंच मौके पर पहुंच क्षति का आकलन का किया। राजस्व टीम के अनुसार घटना से पूरे बाजार में तकरीबन एक करोड़ से ज्यादा की क्षति हुई है।

काशीपुर में पिछले चालीस साल से पुरानी सब्जी मंडी में फड़ की दुकानों लगती आ रही हैं। मंगलवार की रात शॉट सर्किट के चलते दो दुकानों में लगी आग ने देखते ही देखते एक घंटे में 64 दुकानों को खाक कर दिया। संकरी गली होने के चलते मौके पर फायर ब्रिगेड की गाड़िया भी देरी से पहुंच सकी। आग पर नियंत्रण पाने तक सभी दुकानें जल चुकी थी।

बुधवार को घटना के कारण हुई क्षति के आकलन के बाद राजस्व टीम ने बताया कि इलाके में 64 फड़ की दुकानें पूरी जलकर खाक हो गई हैं। आग की चपेट में आने से 32 पक्के दुकानों के मीटर भी पूरी तरह से जल चुके हैं। इसके अलावा तीन घरों को भी मामूली नुकसान पहुंचा है। राजस्व टीम का कहना है कि तकरीबन एक करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है, रिपोर्ट तैयार की जा रही है।

---

आग लगने के कारणों की चल रही जांच आग लगने के कारणों की जांच शुरू कर दी गई है। प्रशासन की ओर से प्रथमदृष्टया इसकी वजह शॉट सर्किट माना जा रहा है। मामले में दुकानदारों और प्रत्यक्षदर्शियों के भी बयान लिए जा रहे हैं।

---

घटना के दौरान चोरी करने से भी नहीं चुके चोर

आग बुझाने के दौरान रेडीमेड और किराने की दुकानों से कई जगह चोरी भी की गई। एक रेडीमेड दुकानदार का कहना है कि आग लगने पर जल्दीबाजी में उन्होंने कुछ सामान बाहर रखा, जिसे चोरों ने पार कर लिया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप