संवाद सहयोगी, खटीमा : उत्तर प्रदेश से धान बेचने 28 ट्रैक्टर-ट्रालियांमंडी आ पहुंची। यह देख किसान भड़क उठे। किसानों के तेवर देख ट्राली चालकों ने उत्तर प्रदेश सीमा की ओर ट्रालियां दौड़ा दी। इसको लेकर काफी देर मंडी परिसर में एक मिलर के साथ नोक-झोंक भी हुई।

मंडी समिति परिसर में शुक्रवार को उस वक्त हंगामा हो गया जब कच्चा आढ़ती तौल के तहत धान बेचने को लाइनों में लगी ट्रैक्टर-ट्रालियों में उत्तर प्रदेश की ट्रालियां भी खड़ी हो गई। अचानक इनकी संख्या बढ़ी देख किसान चकित रह गए। इस पर भारतीय किसान यूनियन के ब्लाक अध्यक्ष गुरुसेवक सिंह ने अपने साथी किसानों के साथ लाइनों में खड़ी ट्रालियों को चेक करना शुरू किया तो करीब 28 ट्रालियां उत्तर प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों से धान लेकर तौल कराने मंडी पहुंची थीं। किसानों के तेवर देख लाइनों में खड़ी यह ट्रालियां मौके से भाग निकलीं। यूनियन के ब्लाक अध्यक्ष सिंह ने बताया कि इन ट्रालियों में अधिकांश उत्तर प्रदेश व कुछ ट्रालियां एक मिलर की थीं, जिन्हें वह गुपचुप तरीके से तौल कराना चाहता था। उन्होंने कहा कि कच्चा आढ़ती तौल की व्यवस्था सरकार ने किसानों के लिए की है। किसानों की आड़ में फर्जी तौल नहीं होने दी जाएगी। इसको लेकर मंडी परिसर में काफी हंगामा भी हुआ। इस मौके पर जसविंदर सिंह, बलजीत सिंह, सतनाम सिंह, गुरवंत सिंह, परमजीत सिंह, सुल्तान सिंह आदि मौजूद थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021