जासं, काशीपुर : सीएम आइएमए के पदाधिकारियों से नहीं मिले, इससे चिकित्सकों में रोष है। आइएमए 15 सितंबर को क्लीनिकल इस्टेब्लिशमेंट एक्ट के खिलाफ निजी अस्पताल बंद करने का एलान किया है।

आइएमए काशीपुर की सचिव डॉ. मीनू सूद ने कहा है कि सात सितंबर को मुख्यमंत्री के साथ देहरादून में आइएमए राज्य शाखा के पदाधिकारियों से मुलाकात होनी थी। जबकि सीएम ने पदाधिकारियों से मुलाकात नहीं की। यह मामला संज्ञान में आया है कि स्वास्थ्य विभाग का एक अफसर क्लीनिकल इस्टेब्लिशमेंट एक्ट में निजी अस्पतालों का पंजीयन कराना चाहता है। जो आइएमए के पदाधिकारियों को स्वीकार नहीं है। एक्ट के विरोध में 15 सितंबर को निजी अस्पताल बंद रहेंगे। इसलिए 13 सितंबर को ही मरीजों को अस्प्ताल से छुट्टी दे दी जाए। आइएमए हरियाणा की तर्ज पर राज्य में एक्ट को लागू करने की मांग की जा रही है। यदि 14 सितंबर तक मांगों पर गौर नहीं किया गया तो 15 सितंबर को अस्पतालों को बंद रखा जाएगा।

Posted By: Jagran