संस, बाजपुर : इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आइएमए) की बैठक में क्लीनिकल स्टेबलिस्मेंट (नैदानिक स्थापना) को अव्यवहारिक कानून बताते हुए इसके विरोध में 15 सितंबर को क्षेत्र के समस्त क्लीनिक, डायग्नोस्टिक सेंटर, अस्पताल, लैब आदि बंद रखने का निर्णय लिया गया।

बैठक में वक्ताओं ने कहा कि सरकार द्वारा उनके उपर जबरन कानून थोपा गया है जिसके चलते निर्धन वर्ग को सस्ती चिकित्सीय सुविधाएं नहीं मिल पा रही हैं। साथ ही मरीजों को भी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा लागू यह कानून पूर्णत: अव्यवहारिक है जिसके चलते 15 सितंबर को स्वेच्छा से बाजपुर क्षेत्र में संचालित 29 चिकित्सीय अपनी सेवाएं बंद रखेंगे। इस मौके पर डॉ. एचओ पांडेय, डॉ.आरके अग्रवाल, डॉ.पीके शर्मा, डॉ. हंसा ¨सह, डॉ. वीके तिलारा, डॉ. एसके गुप्ता, डॉ. के.त्यागी, डॉ. आरके जैन, डॉ. अनुराग अग्रवाल आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran