जागरण संवाददाता, नई टिहरी : श्रीदेव सुमन विवि ने परीक्षा परिणाम में देरी की समस्या से बचने के लिए इस बार केंद्रीय मूल्यांकन केंद्र बनाने का फैसला किया है। अभी तक विवि अलग-अलग स्थानों पर परीक्षाओं की कॉपियों का मूल्यांकन कराता था जिससे एक साथ सभी विषयों की कॉपियों का मूल्यांकन नहीं हो पाता था और परिणाम घोषित करने में देर होती थी। लेकिन, इस बार पंडित ललित मोहन शर्मा राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय ऋषिकेश में केंद्रीय मूल्यांकन केंद्र बनाया जाएगा।

श्रीदेव सुमन विवि परीक्षा परिणाम घोषित करने में हमेशा पीछे रहता है। हर बार विवि ने जल्द रिजल्ट देने के लिए दावे किए। लेकिन, हर साल परिणामों के लिए परीक्षार्थियों को महीनों इंतजार करना पड़ा। अब विवि के कुलपति डॉ. पीपी ध्यानी ने परीक्षा परिणाम जल्द घोषित करने को अपनी प्राथमिकताओं में रखा है। 28 फरवरी को विवि की परीक्षाएं संपन्न हो रही है। ऐसे में विवि एक महीने में ही परिणाम घोषित करने के प्रयास कर रहा है। अभी तक विवि परीक्षाओं के मूल्यांकन के लिए अलग-अलग स्थानों में मूल्यांकन केंद्र बनाता था। इस कारण समन्वय की कमी के कारण कई विषयों की कॉपियां चेक नहीं हो पाती थी। जिस कारण रिजल्ट घोषित करने में देर हो जाती थी। एक ही परिसर में केंद्रीय मूल्यांकन केंद्र बनाने से सभी विषयों की कॉपियां एक साथ चेक की जाएंगी और समय पर रिजल्ट आ सकेगा। इस बार से ऋषिकेश स्थित परिसर में केंद्रीय मूल्यांकन केंद्र बनाया जा रहा है। इससे एक साथ सभी कॉपियां चेक हो सकेंगी और परिणाम जल्द घोषित किया जाएगा।

डॉ. पीपी ध्यानी, कुलपति , श्रीदेव सुमन विवि

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस