जागरण संवाददाता, नई टिहरी: विकास कार्यों की समीक्षा बैठक में टिहरी विधायक धन ¨सह नेगी लोनिवि की कार्यशैली से बेहद नाराज नजर आए। नेगी ने बैठक में कहा कि लोनिवि के काम हो नहीं रहे बल्कि झूल रहे हैं। टिहरी विधानसभा में 26 गांव सड़क सुविधा से वंचित हैं उसके बावजूद लोनिवि सही तरीके से काम नहीं कर रहा। विधायक ने कहा कि गलत अलाइमेंट बनाने के कारण ही लोनिवि के स्टीमेटों का अब शासन में परीक्षण किया जा रहा है।

शुक्रवार को विकास भवन में टिहरी विधायक धन ¨सह नेगी ने विकास कार्यों की समीक्षा बैठक ली। विधायक लोनिवि प्रांतीय खंड नई टिहरी और चंबा लोनिवि की कार्यशैली पर नाराज नजर आए। विधायक ने कहा कि टिहरी विधानसभा में 26 गांव सड़क सुविधा से वंचित हैं। कई गांवों की सड़क स्वीकृत है लेकिन लोनिवि उनपर काम नहीं कर पा रहा। पीपलडाली मोटर मार्ग, अंजनीसैंण- पुनाणू मोटरमार्ग, खांदी- कोट मोटरमार्ग के बुरे हाल हैं। लोनिवि को सड़कों की दुर्दशा नहीं दिख रही।

नेगी ने कहा कि वन विभाग भी वन भूमि प्रकरणों को गंभीरता से निस्तारित करे। चंद्रबदनी रोड में भी जल्द से जल्द वन भूमि प्रकरण निपटाया जाए। बैठक में सीडीओ आशीष भटगाई, डीएफओ कोको रोसे, प्रमुख बेबी असवाल, लोनिवि अधिशासी अभियंता केएस नेगी, गौरव थपलियाल, उदय रावत, विनोद रतूड़ी, सुधीर बहुगुणा, धर्म ¨सह रावत, सुशील बहुगुणा आदि मौजूद रहे। ठेकेदारों को एडजेस्ट करने पर सवाल

विधायक धन ¨सह नेगी ने बैठक में लोनिवि विभाग की ठेकेदारी व्यवस्था पर भी सवाल उठाए। विधायक ने कहा कि जो सड़क डेढ़ किमी की होती है उसे विभाग चार किमी की बना लेता है। ठेकेदारों को एडजेस्ट करने के चक्कर में विभाग भूल जाता है कि यह सरकारी धन की बर्बादी है। नेगी ने कहा कि सड़क का अलाइमेंट बेवजह बढ़ाया जा रहा है जो सही नहीं है। लोनिवि के गलत स्टीमेट के कारण ही अब शासन में लोनिवि की सड़कों के स्टीमेट का परीक्षण कराया जा रहा है। अगर यही हाल रहा तो वह विधानसभा में लोनिवि को लेकर प्रश्न उठाएंगे।

Posted By: Jagran