संवाद सहयोगी, चंबा: कद्दूखाल क्षेत्र में इन दिनों बंदरों के आतंक से लोग परेशान हैं। खासकर सिद्धपीठ मां सुरकंडा मंदिर आने जाने वाले यात्रियों के लिए बंदर परेशानी का सबब बने हुए हैं। स्थानीय ग्रामीणों ने बंदरों को ¨पजरा लगाकर पकड़ने की मांग की है।

कद्दूखाल क्षेत्र में आजकल बंदरों का आतंक है। बंदर खूब उत्पात मचा रहे हैं। बाजार में बंदरों की टोलियां दुकानों से सामान निकाल रही हैं, वहीं सिद्धपीठ मां सुरकंडा आने जाने वाले यात्रियों से बंदर उनके बैग व थैले आदि छीन रहे हैं। बंदर बेखौफ होकर लोगों का सामान झपट रहे हैं। जिससे लोग बहुत परेशान हैं। स्थिति यह है कि लोगों का राह चलना मुश्किल हो रखा है। कद्दूखाल मुख्य बाजार से लेकर सुरकंडा मंदिर जाने वाले रास्ते तक में बंदरों की टोलियां डेरा जमाये हुए हैं। जैसे ही लोग वहां से गुजरते हैं बंदर उनके हाथों में बैग, थैली आदि पर झपट पड़ते हैं। ग्राम प्रधान ताजनारायण, मीना देवी, सुरेन्द्र ¨सह, रविन्द्र उनियाल, वीरेन्द्र प्रसाद, सुन्दरलाल सकलानी, दीपक उनियाल आदि का कहना है कि बंदरों को भगाने पर वे हमला करने दौड़ पड़ते हैं। इसलिए बंदरों के आतंक से निजात दिलाई जाए। उन्होंने वन विभाग के अधिकारियों को ज्ञापन भेजकर बंदरों को पकड़ने की मांग की है। उनका कहना है कि क्षेत्र में ¨पजरे लगाकर बंदरों को पकड़ा जाए।

Posted By: Jagran