देवप्रयाग (टिहरी गढ़वाल)। अर्ध कुंभ के अवसर पर परमार्थ निकेतन की ओर से योग महोत्सव का आयोजन किया गया। इस मौके पर परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष चिदानंद मुनि महाराज और विदेशी योग साधकों ने गंगा तट पर योगासन किया। महोत्सव में अमेरिका, यूरोप, चीन, ताइवान, साउथ अफ्रीका, इजराइल, ऑस्ट्रेलिया समेत 44 देशों के विदेशी साधकों ने भाग लिया।
चिदानंद मुनी महाराज ने कुंभ क्षेत्र देवप्रयाग में पहली बार योग महोत्सव की शुरुआत की। महोत्सव में विदेशी साधकों ने गंगा तट पर सूर्य नमस्कार, प्राणायाम, अष्टांग समेत कई योग की क्रियाएं की। इस मौके पर विदेशी साधकों ने गंगा स्नान कर प्राचीन रघुनाथ मंदिर की पूजा-अर्चना भी की।
योग महोत्सव में कनाडा निवासी क्लोडिन व उनके बेटे केविन को गुरु शिक्षा देकर भारतीय नाम करूणा व कुमार दिए गए। इस अवसर पर चिदांनद मुनि महाराज ने कहा कि देवप्रयाग में पर्यटक विभाग के सहयोग से अंतरर्राष्ट्रीय योग महोत्सव आयोजित किया जाएगा। इसके लिए अतिरिक्त सुविधाएं जुटाए जाएंगी।
महोत्सव में परमार्थ निकेतन के परामध्यक्ष चिदानंद मुनि महाराज ने देवप्रयाग में योग शिक्षा केंद्र खोलने व प्राचीन रघुनाथ मंदिर को नया स्वरूप देने की भी उन्होंने बात कही। इस मौके पर विदेशी योग साधकों ने तीर्थवासियों के साथ फूलों की होली भी खेली। वहीं ऑस्ट्रेलियन कलाकार आदिल ने अनोखे वाद्य यंत्र डिड जीरीडो पर समां बांधा। इस मौके पर नगर पंचायत अध्यक्ष शुभांगी कोटियाल, श्री बदरीश पंडा पंचायत अध्यक्ष कृष्णकांत कोटियाल, आचार्य शैलेंद्र नारायण, आचार्य संदीप भट्ट, दुर्गा भट्ट आदि योग साधकों का स्वागत किया गया।

पढ़ें- रूपहले पर्दे पर छाएगा शक्तिमान घोड़ा, अमेरिका से मुफ्त मिलेगी दो लाख की टांग, पढ़े खबर...

Posted By: Thakur singh negi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस