जखोली: आंगनबाड़ी कार्यकर्ता संगठन ने सरकार से आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिकाओं को सरकारी कर्मचारी घोषित करने की मांग की है। इस संबंध में सीएम को ज्ञापन भी भेजा है।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता संगठन की प्रदेश महामंत्री सुमित थपलियाल व कोषाध्यक्ष शशि नेगी ने कहा कि राज्य कर्मचारी घोषित करने समेत कई मांगों को लेकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता आंदोलित हैं, लेकिन सरकारी स्तर पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। जिससे कर्मचारियों में निराशा का भाव दिख रहा है। उन्होंने सरकार से आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व सहायिकाओं को सरकारी कर्मचारी घोषित करने की मांग की है। जिससे सभी आंगनबाड़ी केंद्रों में कार्यकर्ता पूरे मनोयोग से कार्य कर सकें। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को मुख्य सेविकाओं के पद पर शत प्रतिशत पदोन्नति देने, आयु सीमा की बाध्यता को हटाने, मिनी आंगनबाड़ी केन्द्रों का उच्चीकरण कर उनमें कार्यरत आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को समान कार्य के लिए समान वेतन देने सहित वर्तमान में अन्य राज्यों की भांति आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व सहायिकाओं को मानदेय देने की मांग भी शामिल है।

Posted By: Jagran