रुद्रप्रयाग, जेएनएन। राज्यपाल बेबी रानी मौर्य, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, हंस फाउंडेशन के भोलेजी महाराज और माता मंगला ने केदारनाथ धाम के बेस कैंप में 12 बेड का स्वामी विवेकानंद धर्मार्थ चिकित्सालय का उद्घाटन किया। चिकित्सालय में यात्रियों को निश्शुल्क चिकित्सा सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। इससे पहले राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने बाबा केदार के दर्शन कर प्रदेश की खुशहाली की कामना भी की।

राज्यपाल और मुख्यमंत्री सुबह नौ बजे केदारनाथ पहुंचे और मंदिर में विशेष पूजा-अर्चना कर बाबा केदार का आशीर्वाद लिया। इसके बाद उन्होंने स्वामी विवेकानंद हेल्थ मिशन सोसाइटी देहरादून की ओर से केदारनाथ बेस कैंप में संचालित स्वामी विवेकानंद धर्मार्थ चिकित्सालय का उद्घाटन किया। अपने संबोधन में राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने कहा कि केदारनाथ में अस्पताल के संचालन से देश-विदेश से आने वाले यात्रियों को काफी सहूलियत मिलेगी। क्योंकि, केदारनाथ धाम के अधिक ऊंचाई पर होने के कारण सर्वाधिक समस्याएं यात्रियों के सामने यहीं पेश आती हैं। कहा कि इस अस्पताल में यात्रियों के लिए आपातकालीन सेवाएं भी उपलब्ध रहेंगी।

संस्था के डॉ. कृष्ण गोपाल ने बताया कि 12 बेड के इस चिकित्सालय में दो चिकित्सक स्थायी रूप से तैनात रहेंगे। बताया कि चिकित्सालय में डॉक्टर व पैरामेडिकल समेत कुल 25 लोगों का स्टाफ है। यहां सभी प्रकार की जांच, एक्स-रे, वेंटीलेटर, इंटेन्सिव केयर यूनिट (आइसीयू) समेत अन्य सुविधाएं भी उपलब्ध हैं। अस्पताल में महिला व पुरुष के लिए अलग-अलग आइसीयू वार्ड बनाए गए हैं। इस मौके पर जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल, एसपी अजय सिंह, डॉ. दिनेश सिंह, डॉ. अभिनव असवाल आदि मौजूद रहे। इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने केदारनाथ धाम में हो रहे पुनर्निर्माण कार्यों का जायजा भी लिया। 

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड के इस सबसे बड़े अस्पताल में ठप रहे ऑपरेशन Dehradun News

Posted By: Raksha Panthari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप