संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: त्रियुगीनारायण मंदिर में प्रतिवर्ष लगने वाले वामन द्वादशी मेले को राजकीय मेले का दर्जा मिल चुका है। आगामी सीजन में मेला समिति की ओर से मेले को भव्य तरीके से मनाया जाएगा। मेले के लिए जहां सरकार की ओर से बजट मुहैया कराया जाएगा, वहीं संस्कृति विभाग की ओर से मेले में सांस्कृतिक टीमें भेजी जाएंगी। इसके साथ मेले में जिले के विभिन्न विभागों की ओर से स्टाल भी लगाए जाएंगे।

पिछले पांच वर्षो से त्रियुगीनारायण मेला व जनहित विकास समिति के तत्वाधान में त्रियुगीनारायण में रात्रि को सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन भी करती आ रही है। पौराणिक काल से चले आ रहे इस मेले को आखिरकार अब राजकीय मेले का दर्जा प्राप्त हो चुका है। इसका शासनादेश भी जारी हो गया है। समिति के अध्यक्ष दिवाकर गैरोला ने बताया कि सीएम के औद्योगिक सलाहकार डॉ. केएस पंवार के प्रयासों से यह हुआ है। बताया कि पिछले पांच वर्षो से विषम परिस्थितियों में मेले का संचालन किया जा रहा है। बताया कि आगामी वर्षो में मेले को भव्य तरीके से मनाया जाएगा। वामन द्वादशी मेले को राजकीय मेले का दर्जा मिलने के बाद अब मेले के लिए बजट शासन स्तर से मिलेगा। इसके साथ ही मेले में सरकारी योजनाओं की जानकारी के लिए स्टाल भी लगाए जाएंगे। संस्कृति विभाग की ओर से मेले में सांस्कृतिक टीमें भेजी जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप