संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: केदारनाथ यात्रा से संबंधित व्यवस्थाओं को लेकर नोडल अधिकारी व कर्मचारियों के साथ समीक्षा बैठक में डीएम ने कोविड-19 के मानकों के अनुसार यात्रा संचालित करने के निर्देश दिए। इसके अलावा यात्राकाल में बेहतर आपसी समन्वय स्थापित करने के लिए तैनात अधिकारियों व कर्मचारियों को व्हाट्सएप ग्रुप बनाने को कहा ताकि व्यवस्थाएं आसानी से बनाई जा सके।

जिला कार्यालय सभागार में आयोजत बैठक में डीएम मनुज गोयल ने यात्रा में सुरक्षा व्यवस्थाओं सहित अन्य महत्वपूर्ण बिंदुओं को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। डीएम ने सुरक्षा को लेकर पुलिस, स्वास्थ्य, आपदा, सड़क, विद्युत, पेयजल, संचार, सफाई आदि व्यवस्थाओं को लेकर विभागीय अधिकारियों को विभिन्न निर्देश दिए। उन्होंने पुलिस व परिवहन विभाग को यात्रा मार्गों के अंतर्गत पुलिस चौकियों में तैनात किए गए कार्मिकों की संख्या, धाम में पहुंचने वाले सभी श्रद्धालुओं का आवश्यक रूप से पंजीकरण करने, आरटी पीसीआर रिपोर्ट व कोविड-19 के अंतर्गत जारी गाइडलाइन के अनुसार ही श्रद्धालुओं को यात्रा कराने के निर्देश दिए। उन्होंने यात्रा के दौरान मार्ग पर संचालित होने वाले घोड़े-खच्चरों का आवश्यक रूप से पंजीकरण करने, स्वास्थ्य परीक्षण व बीमा आदि को लेकर शिविर आयोजित करने तथा विद्युत, पेयजल, सफाई व मोटर मार्गों को लेकर भी संबंधित विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया। यात्रा में पहुंचने वाले श्रद्धालुओं को कोविड-19 के अनुसार यात्रा करने संबंधी नियमों को लेकर महत्वपूर्ण पड़ावों में पोस्टर व बैनर के माध्यम से जागरूक करने को कहा। डीएम ने चिरबटिया-घनसाली, मयाली-गुप्तकाशी, खांकरा-खेड़ाखाल-खिर्सू, खांकरा से रुद्रप्रयाग, रुद्रप्रयाग से नगरासू, रुद्रप्रयाग से गौरीकुंड आदि मोटर मार्गों को लेकर निर्माणाधीन कार्यदायी संस्थाओं को जरूरी निर्देश दिए। इस अवसर पर प्रभारी मुख्य विकास अधिकारी मनविदर कौर, उप जिलाधिकारी सदर जयकिशन, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी जितेंद्र नेगी, पुलिस उपाधीक्षक गणेश कोहली, लोनिवि ईई इंद्रजीत बोस, पीएमजीएसवाई कमल सिंह सजवाण, पर्यटन अधिकारी सुशील नौटियाल समेत कई विभागों के अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे।

Edited By: Jagran