संवाद सूत्र, चोपता : दशज्यूला कांडई क्षेत्र के ढुंग जरम्वाड में बुधवार रात को गुलदार ने एक ग्रामीण की गोशाला में बंधी 24 बकरियों को मार डाला। जनप्रतिनिधियों ने वन विभाग से क्षेत्र का मौका मुआयना कर पीड़ित को शीघ्र उचित मुआवजा देने की मांग की है। वहीं गुलदार का आतंक बढ़ने से क्षेत्रीय लोगों में विभाग के प्रति आक्रोश व्याप्त है।

दशज्यूला कांडई क्षेत्र में गुलदार का आतंक बना हुआ है। शाम ढलते ही ग्रामीण अपने घरों से बाहर निकलने में भी कतरा रहे हैं। क्षेत्र में गुलदार लगातार ग्रामीणों के मवेशियों को निवाला बना रहा है, जिससे उनकी आजीविका पर बुरा असर पड़ रहा है। बीते बुधवार रात को गुलदार ने ढुंग जरम्वाड में ग्रामीण बीरबल सिंह की गोशाला की खिड़की तोड़कर अंदर प्रवेश किया और वहां बंधी 24 बकरियों को मार डाला है। इस घटना से बकरी पालक बीरबल को लगभग डेढ़ लाख रुपये से ज्यादा का नुकसान हुआ है। वहीं पीड़ित ने इसकी सूचना वन विभाग को दे दी है। पूर्व जिला पंचायत उपाध्यक्ष लखपत सिंह भंडारी का कहना है कि दशज्यूला क्षेत्र में गुलदार का आतंक बढ़ता ही जा रहा है। उन्होंने विभाग से पीड़ित को उचित मुआवजा दिए जाने की मांग की है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021