रुद्रप्रयाग, [जेएनएन]: मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह व पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने शनिवार को केदारनाथ में पुनर्निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि यदि निर्माण कार्य तय समय पर पूरे नहीं होते तो निर्माणदायी संस्थाओं के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सीएस अपनी टीम के साथ लगभग डेढ़ घंटे तक केदारनाथ में रहे।

मुख्य सचिव व पर्यटन सचिव सुबह हेलीकॉप्टर से केदारनाथ धाम पहुंचे और सबसे पहले मंदिर मे पूजा-अर्चना की। इसके बाद उन्होंने केदारपुरी में चल रहे निर्माण कार्यों का एक-एक कर निरीक्षण किया। उन्होंने पुनर्निर्माण कार्यों में जुटी संस्थाओं को निर्देश दिए कि सभी कार्य तय समय पर पूर्ण करना सुनिश्चित करें। 

उनका कहना है कि बरसात खत्म होने के साथ ही यात्रियों की संख्या मे बढ़ोत्तरी होने लगेगी, लिहाजा यात्रियों की सुविधाओं का पूरा ख्याल रखा जाए। मुख्य सचिव लोनिवि के अधीक्षण अभियंता को वीआइपी हेलीपैड से मंदिर के रास्ते तक पठाल (पहाड़ी शैली के पत्थर) बिछाने और मंदिर के पास बन रहे मुख्य द्वार पर पारदर्शी शीट लगाने के निर्देश दिए। इस अवसर पर जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने कहा कि मुख्य सचिव का निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराया जाएगा। काम में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी। 

इस अवसर पर एसडीएम ऊखीमठ गोपाल सिंह चौहान, अधीक्षण अभियंता लोनिवि मुकेश परमार, निम (नेहरू पर्वतारोहण संस्थान) व सिंचाई विभाग के अधिकारी भी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें: पीएम अक्टूबर में कर सकते हैं नई केदारपुरी का लोकार्पण

यह भी पढ़ें:केदारनाथ के लिए दूसरे चरण की हेली सेवा शुरू, इतनी कपंनिया दे रही सेवा