संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: स्थानीय लोगों को रोजगार देने समेत कई मांगों को लेकर विधायक भरत सिंह चौधरी सुमेरपुर में रेलवे की निर्माणदायी संस्थाओं के खिलाफ एक नवंबर को सांकेतिक धरना देंगे। मांग न माने जाने पर एक सप्ताह बाद वह अनिश्चितकालीन धरना शुरू करेंगे।

रुद्रप्रयाग विधायक भरत सिंह चौधरी ने कहा कि एक ओर केंद्र और राज्य सरकार विकास की अनेक बड़ी योजनाओं से उत्तराखंड को संवार रहे हैं। वहीं निर्माणदायी संस्थाएं स्थानीय हितों को दरकिनार कर रही है। उन्होंने कहा कि परियोजना में 70 फीसदी स्थानीय लोगों को रोजगार दिया जाए। यहां के लोगों को इस महत्वाकांक्षी परियोजना से लाभान्वित करने के लिए विभिन्न तरह के रोजगार देने के प्रयास नहीं किए जा रहे हैं। जबकि लोग लगातार इसके लिए आंदोलन को मजबूर हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन, संघर्ष समिति और कंपनी के बीच एक अनुबंध तैयार किया जाए, जिसमें स्थानीय रोजगार को लेकर एक नीति तैयार की जाए, ताकि लोगों को मदद मिले।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस