संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: जिले के विभिन्न विद्यालयों में लंबे समय से रिक्त चल रहे शिक्षकों के पदों पर गेस्ट टीचरों की तैनाती होने से शिक्षा विभाग को अब कुछ हद राहत मिली है। विद्यालयों में महत्वपूर्ण विषयों में 180 पद गेस्ट टीचरों की तैनाती की गई है। जिससे अब छात्रों को पठन-पाठन में आ रही दिक्कतें दूर होगी। वहीं पहली काउंसिलिग में छूटे गेस्ट टीचरों की काउंसिलिग 24 व 25 फरवरी को संपन्न होगी।

जिले मे कुल 108 इंटर कॉलेजों का संचालित हो रहे है। जिसमें अधिकांश विद्यालयों में विभिन्न महत्वपूर्ण विषयों में शिक्षकों के पद रिक्त चल रहे थे। इसके साथ ही विद्यालयों में शिक्षक न होने से जहां अभिभावक अपने पाल्यों के प्रति चितित थे, वहीं छात्रों को भी पठन पाठन करने में परेशानियां उठानी पड़ रही थी। जनवरी 2019 में गेस्ट टीचर के लिए प्रदेश सरकार ने विज्ञप्ति जारी की थी, जिसके बाद प्रदेश के विभिन्न जनपदों से गेस्ट टीचर के लिए आवेदन किया था। पुराने गेस्ट टीचरों ने सर्वोच्च न्यायालय में रिट दायर कर अपनी तैनाती की मांग की थी। इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने इस पर रोक लगा दी थी। गत 14 जनवरी 2020 को न्यायालय ने फैसला सुनाते हुए पूर्व में आवेदन करने वाले गेस्ट टीचरों को तैनाती देने के निर्देश राज्य सरकार को दिए। इसके बाद शिक्षा निदेशालय ने गेस्ट टीचरों की मेरिट तैयार इसे काउंसिलिग के लिए जनपद स्तर पर भेजा गया। जिले में शिक्षा विभाग ने गत दो फरवरी को काउंसिलिग के आधार पर 180 गेस्ट टीचरों को विभिन्न विद्यालयों में समस्या को देखते हुए तैनाती के लिए नियुक्ति पत्र दिए है। जिसमें से अधिकांश शिक्षकों ने स्कूलों में ज्वाइनिग भी दे दी है। इनमें हिदी, अंग्रेजी, संस्कृत, इतिहास, भूगोल, अर्थशास्त्र, राजनीति विज्ञान, समाज शास्त्र, भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान, गणित विषय शामिल है। अधिकांश विद्यालयों में गेस्ट टीचरों की तैनाती होने से अब छात्रों को पठन पाठन की समस्या हल होगी। शिक्षाधिकारी माध्यमिक एलएस दानू ने बताया कि जिले में मेरिट व काउंसिलिग के आधार गेस्ट टीचरों की प्रथम सूची निकाल दी गई है। जबकि अवशेष व अनुपस्थित गेस्ट टीचरों के लिए 24 व 25 फरवरी से पुन: काउंसिलिग की जाएगी। उन्होंने बताया कि जहां शिक्षकों की अधिक जरूरत थी, वहां गेस्ट टीचरों की तैनाती की गई है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस