पिथौरागढ़, जेएनएन : नगर से लगे क्षेत्र में सक्रिय गुलदार ने जिला मुख्यालय से लगभग सात किमी दूर ढुंगा गांव में पानी भरने जा रही महिला पर हमला कर घायल कर दिया। गांव के पास ही गुलदार द्वारा हमला कर महिला को घायल किए जाने से गांव में दहशत व्याप्त है।

हेमा देवी 35 वर्ष पत्नी शंकर राम शुक्रवार सायं पानी भरने नल पर जा रही थी। इसी दौरान घात लगाए गुलदार ने उस पर हमला कर दिया। महिला के देवर द्वारा गुलदार के हमला करने पर हो हल्ला मचाया गया। जिस पर ग्रामीण पहुंच गए। हो हल्ला मचाए जाने पर गुलदार महिला को घायल कर जंगल की तरफ भाग गया। गांव में आकर महिला को घायल किए जाने से ग्रामीणों में दहशत व्याप्त है। घायल महिला को जिला अस्पताल लाया गया है। जहां पर उसका उपचार चल रहा है। मालूम हो कि इस क्षेत्र में गुलदार का आतंक बना हुआ है। गुलदार अभी तक तीन लोगों को मार चुका है। तीन को घायल कर चुका है।

वन विभाग ने गुलदार को आदमखोर घोषित कर शिकारी तैनात कर दिया है। गुलदार को पकड़ने के लिए वन विभाग की टीम गश्त लगा रही है। गुलदार के बढ़ते हमलों को देख कर ग्रामीण सहमे हुए हैं। चंडाक रोड पर दिन ढलते ही आवाजाही करने वालों की संख्या काफी कम हो चुकी है। गुलदार द्वारा बीते एक माह के बीच तीन लोगों को मारा गया है और तीन लोगों को घायल किया गया है। दिन ढलते ही ग्रामीण घरों में कैद होकर रह जा रहे हैं। ========== गुलदार के हमले में मारे गए दो लोगों के लिए छह लाख की आर्थिक सहायता स्वीकृत पिथौरागढ़: जिला मुख्यालय के नजदीकी गांवों में गुलदार के हमले में मारे गए दो लोगों की मुआवजा राशि को शासन से स्वीकृति मिल गई है। वन विभाग ने एक पीड़ित परिवार को मुआवजा दे दिया है। घायल व्यक्ति के उपचार के लिए भी मुआवजा राशि स्वीकृत हो गई है।

गुलदार ने छाना पांडेय क्षेत्र में 11 वर्षीय बालिका और पपदेव गांव में एक महिला को अपना शिकार बना लिया था। इन दोनों के परिजनों को तात्कालिक सहायता के रू प में 50-50 हजार की सहायता पूर्व में ही दे दी गई थी। मुआवजे की शेष ढाई-ढाई लाख धनराशि भी शासन से स्वीकृत हो गई है। वन क्षेत्राधिकारी दिनेश चंद्र जोशी ने बताया कि करिश्मा के परिजनों को ढाई लाख का चैक दे दिया गया है। पपदेव गांव की महिला का मुआवजा परिजनों को सौंपे जाने की कार्रवाई चल रही है। उन्होंने बताया कि सुकौली में मृत युवक के मुआवजे के मामले में अभी कोई फैसला नहीं हुआ है। इस युवक के गुलदार के हमले में मारे जाने की पुष्टि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में नहीं हुई थी। इसके अलावा धारापानी गांव में गुलदार के हमले में घायल हुए ग्रामीण के उपचार के लिए 50 हजार की धनराशि स्वीकृत हो गई है। इसमें से 15 हजार की धनराशि पूर्व में ही घायल को दे दी गई थी। शेष धनराशि घायल को उपलब्ध कराई जा रही है। ======== गुलदार के आतंक से निजात दिलाने में बर्दाश्त नहीं होगी लापरवाही: विधायक पिथौरागढ़: गुलदार के आतंक से ग्रामीणों को निजात दिलाने के मामले में विधायक चंद्रा पंत ने शनिवार को वन विभाग के अधिकारियों को तलब किया। उन्होंने अधिकारियों से अब तक की गई कार्रवाई की जानकारी ली और कहा कि इस मामले में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

वन विभाग विश्राम गृह में विधायक चंद्रा पंत ने वन विभाग के अधिकारियों से गुलदार को पकड़ने या मारने के लिए की गई व्यवस्थाओं की जानकारी ली। एसडीओ नवीन पंत ने उठाए जा रहे कदमों की जानकारी विधायक को दी। तैनात किए गए शिकारी ने बताया कि सायं चार बजे बाद चंडाक क्षेत्र में हो रही आवाजाही गुलदार को ट्रेस करने में समस्या आ रही है। विधायक ने कहा कि क्षेत्र के लोगों को जल्द से जल्द गुलदार के आतंक से निजात दिलाई जाए। इस मामले में कोई लापरवाही सामने आती है तो वन विभाग के अधिकारी कार्रवाई झेलने के लिए तैयार रहें। उन्होंने कहा कि मृतकों के परिजनों और घायलों के लिए मुआवजा राशि स्वीकृत कर दी गई है। एक युवक के मामले में मजिस्ट्रेटी जांच चल रही है। जांच पूरी होने के बाद इस मामले में कार्रवाई होगी। घायलों को मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर मुआवजा दिया जाएगा। ======= वन विभाग को 10 किमी. के दायरे में छका रहा है गुलदार पिथौरागढ़: जिला मुख्यालय के नजदीकी गांवों में सक्रिय गुलदार वन विभाग को 10 किमी. के दायरे में खूब छका रहा है। एक क्षेत्र में घटना को अंजाम देने के बाद गुलदार दूसरे क्षेत्र में सक्रिय हो रहा है। वन विभाग अभी स्पष्ट नहीं कर सका है कि क्षेत्र में कितने गुलदार हैं। बीती रात्रि गुलदार ने ढूंगा गांव में एक महिला पर हमला बोल दिया। इससे तीन दिन पहले गुलदार ने पुनेड़ी गांव में महिला को घायल किया था। 10 रोज पूर्व पपेदव गांव में महिला को मार डाला था। ये तीन क्षेत्र दस किमी. के दायरे में फैले हैं। गुलदार को मारने के लिए पहुंचे शिकारी हादी ने शुक्रवार की पूरी रात क्षेत्र में रेकी की, लेकिन टीम मचान के लिए अभी कोई स्थल तय नहीं कर सकी है। विभाग ने पपदेव क्षेत्र में पिंजड़े लगाए हैं, लेकिन गुलदार इनके आस-पास भी नहीं फटक रहा है। सीसीटीवी में भी गुलदार अब तक नहीं दिखा है। वन क्षेत्राधिकारी दिनेश जोशी ने बताया कि पूरी संतुष्टि के बाद ही मचान लगाया जाएगा। ======== जाड़ापानी में दिनदहाड़े कुत्ते पर झपटा गुलदार गंगोलीहाट: जाड़ापानी क्षेत्र के ओखलढूंगा गांव में गुलदार ने शनिवार को दिनदहाड़े गणेश चंद्र कोठारी के पालतू कुत्ते पर हमला कर दिया। आंगन में खेल रहे कुत्ते पर हमले के दौरान आस-पास मौजूद लोगों ने शोर मचाकर गुलदार को खदेड़ा। कुत्ता गुलदार के हमले में बाल-बाल बच गया। गुलदार की सक्रियता से क्षेत्र के लोगों में दहशत बनी हुई है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021