संवाद सहयोगी, पिथौरागढ़: विधानसभा चुनाव के लिए सीमांत जनपद में नामांकन प्रक्रिया शुरू हो गई है। पहले दिन केवल पिथौरागढ़ विधानसभा के लिए दो प्रत्याशियों ने अपना नामांकन प्रपत्र जमा कराया। सार्वजनिक अवकाश के चलते 22, 23 व 26 जनवरी को नामांकन नहीं किए जाएंगे। पिथौरागढ़ विधानसभा के लिए पहले दिन कांग्रेस नेता मयूख महर ने कांग्रेस प्रत्याशियों की सूची जारी होने से पहले ही सीधे नामांकन कराया। वह अपराह्न दो बजे सीधे आरओ कार्यालय पहुंचे। यहां उन्होंने आरओ नंदन कुमार को सबसे पहले अपना नामांकन पत्र सौंपा। नामांकन पत्र जमा कराने में उनके साथ प्रस्तावक अधिवक्ता मोहन चंद्र भट्ट व तिलकराज जोशी मौजूद रहे। हालांकि महर ने अभी पार्टी सिबल जमा नहीं कराया है। टिकट मिलने के बाद उन्हें 28 जनवरी से पूर्व आरओ कार्यालय में पार्टी सिबल जमा कराना होगा। पूर्व विधायक महर के नामांकन कराने की पार्टी कार्यकर्ताओं को भी भनक नहीं थी। महर ने बिना किसी पूर्व जानकारी के जिस तरह से अपना नामांकन कराया, राजनीतिक हलकों में इसे उनके चुनावी रणनीति का हिस्सा समझा जा रहा है। महर ने इससे पूर्व वर्ष 2017 व 2012 के विधानसभा चुनाव में भी इसी तरह से अपना नामांकन कराया था। मयूख महर के नामांकन कराने पर कार्यकर्ता ने खुशी जताते हुए उन्हें शुभकामनाएं दीं। इस मौके पर पूर्व दर्जा राज्य मंत्री महेंद्र लुंठी, रमेश कापड़ी, यूकां प्रदेश प्रवक्ता दीपक तिवारी, यूकां जिलाध्यक्ष ऋषेंद्र महर, राजेंद्र भट्ट आदि ने मौजूद रहे। ======== पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष मारकाना ने कराया नामांकन

पिथौरागढ़ विधानसभा के लिए शुक्रवार को दूसरा नामांकन पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष नितिन मारकाना ने कराया। उन्होंने निर्दलयी प्रत्याशी के रूप में आरओ नंदन कुमार अपना नामांकन पत्र जमा कराया। इस मौके पर उनके साथ छात्रसंघ अध्यक्ष चंद्रमोहन पांडेय मौजूद रहे। 29 वर्षीय युवा मारकाना को खासतौर पर युवाओं का समर्थन मिल रहा है।

Edited By: Jagran