संवाद सहयोगी, पिथौरागढ़: देश के प्रथम उपराष्ट्रपति एवं महान शिक्षाविद डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णनन की जयंती बुधवार को शिक्षक दिवस के रू प में जिले भर में धूमधाम से मनाई गई। विद्यार्थियों ने शिक्षकों को आकर्षक उपहार दिए। शिक्षकों ने बच्चों को आशीर्वाद देकर देकर उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

जेबी मेमोरियल मानस एकेडमी में कार्यक्रम का शुभारंभ विद्यालय के संस्थापक डॉ. अशोक कुमार पंत ने डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णनन के चित्र पर माल्यार्पण कर किया। अपने संबोधन में डॉ. पंत ने कहा कि शिक्षक हमारे समाज की रीढ़ की हड्डी होते हैं। विद्यार्थियों के चरित्र निर्माण और उन्हें भारत का आदर्श नागरिक के रू प में ढालने में शिक्षक की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। उन्होंने बच्चों को डॉ. राधाकृष्णनन की जीवनी से सीख लेने की प्रेरणा दी। इस मौके पर प्रबंधक कंचनलता पंत, प्रधानाचार्या मीनू भट्ट, प्रशासक जीएस बोहरा, उप प्रधानाचार्या सुनीता रावत, एनडी भट्ट आदि ने विचार रखे। इधर, सिटी शाखा में प्रधानाचार्या ममता पंत ने डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णनन को याद करते हुए बच्चों को शिक्षक का महत्व बताया। आदर्श विद्यालय गंगोत्री गब्र्याल राबाइंका में कार्यक्रम का शुभारंभ प्रधानाचार्या नंदा रावत ने दीप प्रज्ज्वलित कर डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णनन के चित्र पर माल्यार्पण कर किया। गुरु कुल इंटरनेशनल स्कूल में कार्यक्रम का शुभारंभ प्रबंधक रमेश चंद्र जोशी द्वारा केक काटकर किया गया। इस मौके पर विद्यालय की ओर से शिक्षाविदों को सम्मानित किया गया। विद्यार्थियों ने गुरु जनों को उपहार भेंट किए। नारायण स्वामी विद्या मंदिर में शिक्षक दिवस पर कला, सुलेख व कुर्सी दौड़ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसमें बच्चों ने बढ़चढ़ कर प्रतिभाग किया। प्रधानाचार्या रेखा पांडेय ने डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णनन के जीवन पर प्रकाश डालते हुए बच्चों से उनके आदर्श पर चलने के लिए प्रेरित किया। तनुज कोचिंग सेंटर में कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए प्रबंधक जगदीश कलखुड़िया ने कहा कि माता-पिता ही हमारे प्रथम गुरु हैं। हमें उनका सदा आदर-सम्मान करना चाहिए। स्पार्क कोचिंग सेंटर में प्रबंधक प्रशांत त्रिपाठी ने विद्यार्थियों को गुरु के महत्व से अवगत कराते हुए कहा कि एक शिक्षक ही अपने शिष्य को उसके लक्ष्य तक पहुंचा सकता है। स्टेफर्ड पब्लिक स्कूल में प्रबंधक राकेश देवलाल व प्रधानाचार्या कल्पना देवलाल ने डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णनन के जीवन पर प्रकाश डाला। आइडियल पब्लिक स्कूल में प्रबंधक रमन सेठी ने दीप जलाकर कार्यक्रम की शुरू आत की। सोरवैली पब्लिक स्कूल में निदेशक डॉ. उमा पाठक के नेतृत्व में शिक्षक दिवस मनाया गया। एशियन स्कूल में प्रबंधक वीरेंद्र पाल ने बच्चों को डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णनन के जीवन से प्रेरणा लेने को कहा। सिटी पब्लिक स्कूल, दयानंद, मल्लिकार्जुन, ज्ञानदीप इंटर कॉलेज, निखिलेश्वर चिल्ड्रेन एकेडमी में भी शिक्षक दिवस धूमधाम से मनाया गया।

जिला प्रशासन व घनश्याम ओली चाइल्ड वेलफेयर सोसाइटी की ओर से शिक्षा के स्तर को ऊंचा उठाने के लिए चलाए जा रहे एडोप्ट एंड चेंज कार्यक्रम के तहत विभिन्न स्कूलों में कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। मुख्य विकास अधिकारी सीडीओ वंदना, संस्था सदस्यों व अध्यापकों के साथ मिलकर केक काटा गया। एलएसएम राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय के बीएड विभाग में शिक्षक कार्यक्रम का शुभारंभ प्राचार्य डॉ. डीएस पांगती ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। बीएड विभागाध्यक्ष डॉ. एसके आर्य ने कहा कि देश के विकास की आधारशिला शिक्षक ही होते हैं।

मुनस्यारी: शिक्षक दिवस पर विवेकानंद विद्या मंदिर इंटर कॉलेज में शिक्षक सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि एसडीएम केएन गोस्वामी ने विद्यार्थियों को विगत 25 वर्षों से शिक्षा दे रहे आचार्य मोहन सिंह नितवाल व उत्कृष्ट कार्य करने वाले आचार्यों को शॉल व स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। समारोह में प्रधानाचार्य भगत सिंह बोरा, लक्ष्मण पांगती, हयात सिंह रावत, गोकर्ण मर्तोलिया, राजेश्वरी पांगती, मंगल मर्तोलिया, मुन्ना सयाना, एसएमसी अध्यक्ष प्रमोद द्विवेदी आदि मौजूद थे।

डीडीहाट: तहसील क्षेत्र में शिक्षक दिवस धूमधाम से मनाया गया। शिखर इंटर कॉलेज में 82 वर्ष की उम्र में भी बच्चों को अनवरत शिक्षा दे रहे प्रधानाचार्या तारा दत्त गुरु रानी को सम्मानित किया गया। इस मौके पर विद्यालय परिसर में पौधरोपण अभियान भी चलाया गया।

बेरीनाग: शिक्षक दिवस पर राप्रावि ऐराड़ी में बच्चों ने विभिन्न रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किए। इस मौके पर बच्चों ने शिक्षकों का आकर्षक उपहार भेंट किए। कार्यक्रम में प्रधानाचार्या मीना शाह, विमला कार्की, ग्राम प्रधान ममता गैंडा आदि मौजूद थे। एशियन एकेडमी में भी शिक्षक दिवस पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

झूलाघाट: शिक्षक दिवस पर राइंका झूलाघाट में बच्चों ने शिक्षक-शिक्षिकाओं पर आधारित विभिन्न कार्यक्रम प्रस्तुत किए। इस मौके पर विभिन्न प्रतियोगिताओं में अव्वल रहे छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया गया। झूलाघाट थाने की महिला कांस्टेबल प्रियंका कोरंगा को सराहनीय कार्यों के लिए सम्मानित किया गया। संचालन शिक्षक गोविंद भट्ट ने किया। कार्यक्रम में प्रधानाचार्य जेआर साह, ग्राम प्रधान मंजिरकांडा सुरेंद्र आर्या, एसएमसी अध्यक्ष बबीता कलखुड़िया, एसआइ कंचन कुमार, अक्षु रानी आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप