पिथौरागढ़, [जेएनएन]: भारत-नेपाल की सेनाओं के संयुक्त सैन्य अभ्यास के सातवें दिन आतंकवादियों के अचानक हमले से निपटने के कौशल का प्रदर्शन जवानों ने किया। इस दौरान तत्काल रणनीति बनाने और भाग रहे आतंकवादियों को दबोचने का अभ्यास भी हुआ।

पिथौरागढ़ सैन्य क्षेत्र में चल रहे सैन्य अभ्यास के सातवें रोज शारीरिक कौशल प्रदर्शन के बाद जवानों ने आतंकवादी हमलों के दौरान क्विक रिएक्शन का अभ्यास किया। इस दौरान पास में रहने वाले हथियार और आतंकवादियों को घेरने की रणनीति विशेषज्ञों ने समझाई। काउंटर अटैक में मैदान छोड़कर भागने वाले आतंकवादियों को घेरने का अभ्यास जवानों ने किया।

सातवें रोज मोबाइल चैक पोस्ट तैयार करने का सबसे महत्वपूर्ण अभ्यास का प्रदर्शन दोनों देशों के जवानों ने किया। अभ्यास में शामिल जवानों ने कई महत्वपूर्ण जानकारियां हासिल की और इस तरह के हालत से निपटने में अपने अनुभव साझा किए। दोनों देशों के जवानों को शामिल कर बनाई गई टीमों के बीच बास्केटबाल का शानदार मुकाबला हुआ। 

यह भी पढ़ें: जवानों ने दिखाया बारूदी सुरंगों को निष्क्रिय करने का कौशल

यह भी पढ़ें: संयुक्त युद्धाभ्यास: भारत-नेपाल की सेनाओं ने बनाए सैन्य पोस्ट

यह भी पढ़ें: भारत और नेपाल की सेनाओं का संयुक्त युद्धाभ्यास पिथौरागढ़ में शुरू

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021