संस, पिथौरागढ़: देश की आजादी के लिए अपने प्राणों को न्यौछावर करने वाले शहीद-ए-आजम भगत सिंह की 112वीं जयंती पर महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। छात्र-छात्राओं ने शहीद भगत सिंह के चित्र पर माल्यार्पण कर उनके आदर्शों पर चलने का संकल्प लिया।

शुक्रवार को एलएसएम राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में इतिहासबोध संपादक टीम के तत्वाधान में इतिहास विभाग में शहीद भगत सिंह की जयंती पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। गोष्ठी का शुभारंभ करते हुए किशोर कुमार जोशी ने कहा कि आज भगत सिंह सिर्फ टी-शर्ट या प्रोफाइल फोटो में ही सिमट कर रह गए हैं। युवाओं को उनके विचारों को आत्मसात करना चाहिए और शोषण व अन्याय के खिलाफ आवाज उठानी चाहिए। विभागाध्यक्ष डॉ. बीएम पांडेय ने कहा कि वर्तमान समय में लोकतंत्र में सामाजिक सरोकारों की कमी को दृष्टिगत रखते हुए शहीद भगत सिंह के विचार, सिद्धांत व कार्य प्रासंगिक एवं प्रेरणादायक हैं। छात्रा मंजू मेहता ने उनके क्रांतिकारी संषर्घों पर विचार रखते हुए उनके बताए मार्ग पर चलने की अपील की। गोष्ठी में धीरज जोशी, आफरीन खान, श्वेता, मंजू, प्रिया, मेघा, ज्योति, अंजली, भरत, दिनेश, आरती आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस