संसू, गंगोलीहाट: तहसील क्षेत्र में हुई भारी वर्षा से कुलूर नदी का जलस्तर बढ़ चुका है। ग्वासीकोट, खिरमांडे क्षेत्र को जोड़ने के लिए नदी में बनाया गया अस्थाई मोटर मार्ग बह गया है।

कुलूर नदी पर पुल नहीं होने से विभाग ने अस्थाई मोटर मार्ग बनाया है। गुरु वार की रात्रि की भारी बारिश से कुलूर नदी का जलस्तर बढ़ गया और अस्थाइ मोटर मार्ग बह गया। मार्ग बहने से सारतोला, नैनी, खिरमाडे और ग्वासीकोट क्षेत्र की जनता प्रभावित है। इस स्थान पर पैदल आवाजाही के लिए लगाई गई ट्रॉली की रस्सी खराब होने से पैदल आवाजाही भी बंद हो चुकी है। प्रभावित क्षेत्र के लोगों को अब वाया सेराघाट-बुसैल होकर लंबी दूरी तय करनी पड़ रही है। ग्रामीणों ने लोनिवि से स्थायी समाधान के लिए यहां पर मोटर पुल निर्माण की मांग की है। ======= भारी वर्षा से निर्माणाधीन मकान के आंगन की दीवार ढही

बेरीनाग : बेरीनाग तहसील में भारी वर्षा हो रही है। गुरुवार की रात्रि की बारिश से नगर पंचायत के ढनौली वार्ड में एक निर्माणाधीन मकान के आंगन की दीवार ढह गई। नगर के मध्य डाकघर से जमुनानगर तक सड़क मलबे से भर गई।

भारी बारिश से ढनौली वार्ड के बगीचा निवासी नरेंद्र सिंह धनिक के निर्माणाधीन मकान के आंगन की सुरक्षा दीवार ढह गई जिससे मकान को खतरा बना है। इसकी सूचना तहसील प्रशासन और नगर पंचायत को दी जा चुकी है। विगत दो दिनों के भीतर 97 एमएम बारिश होने से बेरीनाग नगर की सड़कों की दशा खराब है। एनएच लोहाघाट डिवीजन के अंतर्गत आने वाली इस सड़क की पोल मानसून से पूर्व की बारिश ने खोल दी है। बारिश के चलते नालियों का पानी सड़क पर बह रहा है। डाकघर से जमुनानगर तक सड़क मलबे से पट चुकी है।

सड़कों पर पानी बहने से सड़क पर गड्ढे बन चुके हैं। समाज सेवी अमित पाठक का कहना है कि कभी भी दुर्घटना घट सकती है। उन्होंने शीघ्र बंद कलमठों को खोलने और नाली निर्माण की मांग की है। वहीं एनएच के अवर अभियंता पंकज कुमार का कहना है कि कलमठों पर अतिक्रमण और नालियों में पाइप लाइन बिछी होने से बंद कलमठ खोलने और नाली निर्माण में परेशानी हो रही है। रविवार तक नालियों की सफाई की जाएगी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप