पिथौरागढ़, जेएनएन : जिला महिला अस्पताल में लगातार महिलाओं की मौत को लेकर आक्रोश बना हुआ है। सीमांत यूथ मोर्चा ने सभा कर प्रदेश सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया तो देवलथल में स्वास्थ्य मंत्री का पुतला फूंका।

सीमांत यूथ मोर्चा के अध्यक्ष सुशील खत्री के नेतृत्व में युवाओं ने गांधी चौक पर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान सुशील खत्री ने कहा कि वर्ष 2015 से जिला महिला अस्पताल में विशेषज्ञ चिकित्सकों की मांग को लेकर आंदोलन किया जा रहा है। सरकारें इसे अनसुना कर रही हैं। खामियाजा महिलाएं भुगत रही हैं। समुचित चिकित्सा की कमी से पिछले ढाई माह के बीच चार महिलाओं की मौत हो चुकी है। छोटे -छोटे बच्चे अपनी मां खो चुके हैं। निर्मम व्यवस्था आंखे मूंदे बैठी है। जनप्रतिनिधि मौन धारण किए हैं। निरीह महिलाएं उपचार के नाम पर काल का ग्रास बन रही हैं। उन्होंने कहा कि अब जनता इसे सहन नहीं करेगी।

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि यदि पंद्रह दिन के भीतर विशेषज्ञ चिकित्सकों की तैनाती नहीं हुई तो सीयूमो कार्यकर्ता महिला अस्पताल में भूख हड़ताल प्रारंभ कर देंगे। इस मौके पर प्रदेश सरकार और अस्पताल प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। प्रदर्शन करने वालों में सुरेश जोशी, शंकर राम, नवीन शर्मा, विजय भाटिया, नवीन आर्या, राजू जोशी, पप्पू लुंठी, विपिन पुनेड़ा, अमित बब्लू, इरफान, हरीश, दिनेश, जगदीश सहित अन्य लोग मौजूद थे।

देवलथल : जिला महिला अस्पताल में महिलाओं की मौत को लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में भी आक्रोश भड़कने लगा है। देवलथल में पूर्व जिपं सदस्य जगदीश कुमार के नेतृत्व में ग्रामीणों ने प्रदर्शन करते हुए प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री का पुतला फूंका। प्रदर्शन करने वालों में ग्राम प्रधान लोहाकोट शंकर सिंह सामंत, पूर्व प्रधान सौगांव पुष्कर राम, नरेश पांडेय, पूर्व सैनिक खीम सिंह बसेड़ा, दीपक सिंह सामंत, किशोर पांडेय, देवेंद्र टम्टा, होशियार सिंह आदि शामिल थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

जागरण अब टेलीग्राम पर उपलब्ध

Jagran.com को अब टेलीग्राम पर फॉलो करें और देश-दुनिया की घटनाएं real time में जानें।