हल्द्वानी, पिथौरागढ़, जेएनएन: कुमाऊं का सीमांत जिला पिथौरागढ़ भी डिजिटल क्रांति की दौड़ में बढ़-चढ़कर भागीदारी निभा रहा है। अब इस कड़ी में मुख्यालय से करीब 85 किलोमीटर दूरी पर स्थित 24 साल पुराना बलुवाकोट डिग्री कॉलेज भी ऑनलाइन हो गया है। कॉलेज की वेबसाइट से छात्र-छात्राओं को प्रवेश के लिए निर्धारित सीटों की जानकारी तो मिलेगी ही पाठ्य सामग्री का पीडीएफ भी डाउनलोड किया जा सकेगा।

राजकीय महाविद्यालय बलुवाकोट की नव निर्मित वेबसाइट को प्राचार्य डॉ. डीसी पंत ने शुक्रवार को लांच किया। डॉ. पंत ने बताया कि वेबसाइट www.द्दस्त्रष्ढ्डड्डद्यह्व2ड्डद्मश्रह्लद्ग.द्बठ्ठ में ई-पाठशाला का ऑप्शन दिया गया है। जिसकी मदद से छात्र-छात्राएं अपने विषय की पाठ्य सामग्री का पीडीएफ ले सकेंगे। साथ ही डिजिटल लाइब्रेरी के माध्यम से पुस्तकालय में मौजूद किताबों की भी जानकारी मिलेगी। बताया कि जल्द ही वेबसाइट में कई नई जानकारियां भी जोड़ी जाएंगी। छात्र-छात्राएं प्रवेश व परीक्षा से संबंधित जानकारियां भी ले सकेंगे। बताया कि महाविद्यालय की स्थापना वर्ष 1996 में हुई थी। वर्तमान में 550 छात्र-छात्राएं यहां से बीए, बीएससी, एमए कर रहे हैं। इस मौके पर असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. अतुल चंद्र, डॉ. नवीन कुमार, डॉ. जितेंद्र सिंह, डॉ. नयाब अली, प्रशासनिक अधिकारी राजेंद्र प्रसाद मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस