पिथौरागढ़, जेएनएन: कोरोना काल में लॉकडाउन के दौरान जनसेवा में जुटे पूर्व सैनिकों को विधायक चंद्रा पंत ने सम्मानित किया। उन्होंने कहा कि पूर्व सैनिकों द्वारा लॉकडाउन के दौरान जनसेवा में बखूबी सैनिक की भांति सार्थक भूमिका का निर्वहन किया गया। गरीबों, असहायों व जरु रतमंदों के पास पहुंचकर पूर्व सैनिक जनकल्याण समिति ने उल्लेखनीय कार्य किए हैं जो एक सैनिक ही कर सकता है।

देश में कोरोना काल के लॉकडाउन होते ही पूर्व सैनिक जनकल्याण समिति जनसेवा में जुट गई थी। समिति के अध्यक्ष दान सिंह वल्दिया के नेतृत्व में पूर्व सैनिकों ने दूरदराज के गांवों में जाकर गरीब, असहाय और जरूरतमंदों की मदद का जिम्मा संभाला था। लॉकडाउन के दौरान प्रत्येक व्यक्ति सुरक्षित रहे इसके लिए समिति के पूर्व सैनिक दिन-रात मुस्तैद रहे। जहां भी किसी के संकट में होने की सूचना मिलते ही उसे मदद के लिए क्षेत्र के पूर्व सैनिक दरवाजे पर मौजूद मिलता था। सबसे बड़ी बात यह रही कि पूर्व सैनिकों ने अपना अभियान एक सैनिक की तरह चलाया और सैनिक की तरह ही इसे भी कर्तव्य समझते हुएबखूबी निभाया। जिसे लेकर समिति के पूर्व सैनिकों को कोरोना वॉरियर्स माना गया।

पूर्व सैनिक जनकल्याण समिति के कोरोना वारियर्स को विधायक चंद्रा पंत ने सम्मान पत्र और प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित करते हुए कोरोना काल में उनके सहयोग के लिए धन्यवाद दिया। सम्मानित होने वालों में समिति के अध्यक्ष दान सिंह वल्दिया, कुंडल मौसाल, जितेंद्र खनका, दीवानी चंद साही, रामसिंह बिष्ट, संजय खनका, राजेंद्र जोशी, रमेश सिंह, देवराज ज्याला,्र देव सिंह भाटिया, भुवन वल्दिया, जोगा सिंह बिष्ट, मिलाप धामी, महेंद्र महर सहित दर्जनों पूर्व सैनिक शामिल रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस