संवाद सहयोगी, पिथौरागढ़: विकासखंड मूनाकोट के सौन पट्टी क्षेत्र में सोमवार को पहली बार रसोई गैस का वाहन पहुंचा। अभी तक सौन पट्टी क्षेत्र के दर्जनों गांवों को दस किमी दूर गैस सिलेंडर लेने जाना पड़ता था। गैस सिलेंडर वाहन पहुंचने से क्षेत्रवासियों ने मिष्ठान्न वितरण कर खुशी व्यक्त की।

सौन पट्टी क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम सभा रू म, शकुन, ध्याण, क्वीगांव, मझेड़ा, चिंतोली, क्वीतड़, जमतड़ी, जिलफोड़ा, हल्दू आदि गांवों के ग्रामीण क्षेत्र में लंबे समय से रसोई गैस वितरण केंद्र बनाने की मांग करते आ रहे थे। वितरण केंद्र नहीं होने से क्षेत्र के ग्रामीणों को 120 रु पये अतिरिक्त खर्च कर दस किमी दूर अड़किनी या वड्डा जाना पड़ता था। जिस कारण ग्रामीणों का समय व धन अधिक खर्च होता था। जिला ग्राम प्रधान संगठन अध्यक्ष व ग्राम प्रधान क्वीतड़ श्याम सुंदर सिंह सौन, पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष हरीश रावत ने जिला प्रशासन को क्षेत्र के ग्रामीणों की इस समस्या से अवगत कराया और क्षेत्र में गैस वितरण की व्यवस्था करने की मांग की। जिसके बाद सोमवार को पहली बार गैस एजेंसी का वाहन सिलेंडर लेकर सौन पट्टी पहुंचा। अब हर माह क्षेत्र में गैस की आपूर्ति की जाती रहेगी। गैस वितरण की व्यवस्था होने पर क्षेत्र की जनता ने मिष्ठान्न वितरण कर खुशी व्यक्त की। इस मौके पर ग्राम प्रधान धीरज सिंह, ललित भंडारी, मनोज, मनोज भंडारी आदि शामिल थे।

विजय उप्रेती

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस