जाटी, पिथौरागढ़/धारचूला/मुनस्यारी: सीमांत में बारिश का कहर जारी है। भारी बारिश से जिला मुख्यालय स्थित आदर्श गंगोत्री गब्र्याल राजकीय बालिका इंटर कॉलेज के प्रांगण की जमीन धंसने लगी है। प्रांगण के किनारे लगाई रेलिंग गिर चुकी है विद्यालय भवन को खतरा पैदा हो गया। मुनस्यारी के ढिमढिमिया में एक गोशाला ध्वस्त हो चुकी है। जिला मुख्यालय के निकटवर्ती जाख में सड़क किनारे भू कटाव होने से साधन सहकारी समिति भवन सहित पूरी बस्ती को खतरा हो चुका है। जिले भर में 21 मार्ग बंद हैं। चीन सीमा को जोड़ने वाला दारमा मार्ग 44वें दिन भी नहीं खुल सका है।

भारी बारिश से जिला मुख्यालय के चंडाक रोड पर स्थित राबाइंका के मुख्य भवन को खतरा पैदा हो गया है। भवन से लगभग तीस मीटर नीचे चंडाक रोड के धंसने से विद्यालय का प्रांगण भी धंसने लगा है। यहां पर लगी रेलिंग मलबे के साथ नीचे गिर गई है। विद्यालय की प्रधानाचार्या का कहना है कि विगत वर्षो में ढही दीवार नहीं बनाए जाने के कारण अब स्थिति खराब होती जा रही है। उन्होंने शीघ्र सुरक्षा दीवार की मांग की है।

उधर जिला मुख्यालय से दस किमी दूर जाख कस्बे में गुरु वार की बारिश से सड़क किनारे भू कटाव हो चुका है जिससे पूरी बस्ती खतरे में है। लोग घरों में रहने से डर रहे हैं। स्थानीय निवासी भाजपा नेता राजेंद्र भट्ट ने इसकी सूचना दी। सूचना मिलने पर एसडीएम मौके पर पहुंचे और स्थित का जायजा लिया। यहां पर सुरक्षा दीवार शीघ्र बनाने की मांग की गई है। मुनस्यारी से मिले समाचारों के अनुसार ढिमढिमिया गांव में त्रिलोक सिंह की गौशाला ध्वस्त हो गई। जानवर बाल -बाल बचे।

काली नदी का जलस्तर बढ़ रहा है। धारचूला में काली नदी 888.70 मीटर पर बह रही है। यहां पर चेतावनी लेवल 889 मीटर है। चीन सीमा को जोड़ने वाला दारमा मार्ग 44वें दिन भी बंद है। जिले भर में 21 मार्ग बंद है और डेढ़ लाख की आबादी प्रभावित है। पीएमजीएसवाइ डेढ़ माह से बंद मुनस्यारी के होकरा और भैंस्कोट मार्ग खोलने में जुटी है।

Edited By: Jagran