संवाद सहयोगी, पिथौरागढ़ : देश की सबसे बड़ी धार्मिक यात्रा को संपन्न कराने वाले कुमाऊं मंडल विकास निगम कर्मचारियों को गुरुवार को आधार शिविर धारचूला में सम्मानित किया गया। निगम की ओर से हर वर्ष तीन माह तक सेवा देने वाले कर्मचारियों को सम्मानित किया जाता है।

निगम के पर्यटक आवास गृह में साहसिक पर्यटन प्रबंधक दिनेश गुरुरानी ने दो दर्जन कर्मचारियों को स्मृति चिंह और शॉल भेंटकर सम्मानित किया। इस अवसर पर गुरूरानी ने कहा कि निगम के कर्मचारी आधार शिविर धारचूला से उच्च हिमालयी क्षेत्र में स्थित अंतिम भारतीय पड़ाव नाबीढांग तक कैलास मानसरोवर यात्रियों को सेवाएं देते हैं। यात्रियों के भोजन-पानी से लेकर उनके आवास आदि की व्यवस्थाओं का जिम्मा निगम कर्मी बखूबी संभालते हैं। इस वर्ष यात्रा करने वाले यात्रियों ने निगम कर्मियों की सेवाओं की जमकर तारीफ की थी। उन्होंने कहा कि निगम की इस पहल से कर्मचारियों को भविष्य में और बेहतर कार्य करने की प्रेरणा मिलेगी।

इस अवसर पर यात्रा अधिकारी दीवान सिंह बिष्ट, लेखाकार अशोक पांडेय, गुंजी पड़ाव के इंचार्ज चंद्र सिंह राठौर, कालापानी पड़ाव के इंचार्ज गणेश चन्याल, नाबीढांग के इंचार्ज हरीश कांडपाल, जौलिंगकौंग पड़ाव के प्रभारी अरविंद नेगी, बूंदी के प्रभारी होशियार सिंह, प्रताप नाथ, मनीष मेहरा, धन सिंह, रमेश बिष्ट, योगेश धामी सहित तमाम लोग मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप