संवाद सहयोगी, पिथौरागढ़: जागरू कता अभियान के बाद महिलाएं माहवारी के दौरान सेनेटरी पैड का उपयोग तो करने लगी है, लेकिन घटिया पैड महिलाओं के लिए स्वास्थ संबंधी तमाम समस्याएं खड़ी कर रही है। अब इस मसले पर सामाजिक कार्यकर्ता रीता गहतोड़ी ने जागरू कता अभियान शुरू कर दिया है। वे महिलाओं को गुणवत्तायुक्त पैड का उपयोग करने के लिए प्रेरित कर रही हैं।

सोमवार को उन्होंने नगर में जागरू कता अभियान चलाया। उन्होंने महिलाओं को बताया कि घटिया गुणवत्ता वाले सेनेटरी पैड से संक्रमण की समस्या खड़ी हो रही है। पेड में उपयोग किया जाने वाला प्लास्टिक और रसायन इसका बड़ा कारण है। उन्होंने महिलाओं को समझाया कि वे प्लास्टिक और रसायन विहीन पैड का ही उपयोग करें। उन्होंने कहा कि इस तरह के खतरनाक पेड की बिक्री पर रोक लगाई जानी जरूरी है, अन्यथा भविष्य में इसके गंभीर परिणाम सामने आयेंगे। उन्होंने इस संबंध में देश के प्रधानमंत्री को भी पत्र प्रेषित किया है।

अभियान के बाद उन्होंने महिला चिकित्सालय की चिकित्सकों से मुलाकात की और इस तरह के पैड के उपयोग से सामने आ रही दिक्कतों को लेकर चर्चा की। चिकित्सकों ने बताया कि संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं और इसका बड़ा कारण घटिया सेनेटरी पैड का उपयोग है। इस पर रोक लगाई जानी जरू री है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप