संवाद सहयोगी, पिथौरागढ़: जिला मुख्यालय से 15 किमी दूर स्थित आदर्श प्राथमिक विद्यालय गुरना के खाते में एक और बड़ी उपलब्धि जुड़ गई है। विद्यालय में कंप्यूटर लैब स्थापित होने के साथ ही यह स्मार्ट विद्यालय के रू प में विकसित हो गया है। अब बच्चे किताबी ज्ञान के साथ कंप्यूटर आधारित शिक्षा भी ग्रहण कर सकेंगे। विद्यालय में कंप्यूटर लैब स्थापित होने से बच्चे बेहद उत्साहित हैं।

विद्यालय में आयोजित समारोह में मुख्य अतिथि जिला विकास अधिकारी गोपाल गिरी गोस्वामी ने रिबन काटकर कंप्यूटर लैब का शुभारंभ किया। डीडीओ ने कहा कि प्रधानाध्यापक सुभाष चंद्र जोशी ने गुरना विद्यालय को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाया है। यह विद्यालय शिक्षा के क्षेत्र में अन्य विद्यालयों के लिए उदाहरण बना हुआ है। सामाजिक कार्यकर्ता जुगल किशोर पांडेय ने कहा कि गुरना स्कूल नित नए आयाम स्थापित कर रहा है। प्रधानाध्यापक जोशी ने सभी का आभार जताते हुए विद्यालय के विकास के लिए निरंतर प्रयासरत रहने की बात कही। कार्यक्रम में सामाजिक कार्यकर्ता बसंत भट्ट, दिनेश धानिक, गिरीश चंद्र, मुकेश जोशी, लता वल्दिया आदि शामिल थे। बता दें कि प्रधानाध्यापक जोशी के सकारात्मक प्रयासों से गुरना स्कूल की कायाकल्प हो गई है। चार वर्ष पूर्व महज 11 छात्रसंख्या वाले इस विद्यालय में वर्तमान में 166 से अधिक छात्र-छात्राएं अध्ययनरत हैं। सरकारी शिक्षा को कोसने वालों के लिए यह विद्यालय अनूठी मिसाल पेश कर रहा है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस