संवाद सहयोगी, कोटद्वार : भाबर के सिडकुल ग्रोथ सेंटर स्थित एक कंपनी में कार्य बहिष्कार कर रहे श्रमिकों ने बुधवार को सड़कों पर उतरकर कंपनी प्रबंधन के खिलाफ प्रदर्शन किया। उन्होंने तहसील परिसर में धरना देते हुए एसडीएम से कंपनी प्रबंधन के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की। उन्होंने कहा कि जब तक प्रबंधन के खिलाफ कार्रवाई नहीं की जाती श्रमिक कार्य बहिष्कार जारी रखेंगे।

बुधवार को कंपनी के करीब तीन सौ श्रमिक नजीबाबाद रोड में एकत्रित हुए व यहां से कंपनी प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए तहसील में पहुंचे। यहां हुई सभा में वक्ताओं ने कहा कि फैक्ट्री प्रबंधन श्रमिकों का उत्पीड़न कर रहा है। कहा कि श्रमिकों से माह में मात्र बीस दिन ही काम लिया जाता है, जबकि बस का किराया उनसे पूरे महीने का वसूला जाता है। कहा कि बीते दस साल से फैक्ट्री में काम कर रहे श्रमिकों का अब तक वेतन नहीं बढ़ाया गया, जिससे उन्हें आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

कहा कि जब इस संबंध में श्रमिकों ने कंपनी प्रबंधन से वार्ता की, लेकिन प्रबंधन सुनने को तैयार नही है। इस दौरान श्रमिकों ने 11 सूत्री मांगों को लेकर उप जिलाधिकारी कमलेश मेहता को ज्ञापन सौंप मांगों के निस्तारण की मांग की। कहा कि जब तक श्रमिकों की मांग का निराकरण नहीं किया जाता उनका कार्य बहिष्कार जारी रहेगा। इस मौके पर कृष्णा बहुगुणा, पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष सूरज प्रसाद कांति, गुड्डी देवी, अनीता देवी, मीनाक्षी, रश्मि, अमन, राखी, रूबी, श्वेता, शीतल, सीमा, पूजा, ऋषभ, धीरज नेगी सहित कई अन्य मौजूद रहे।

Posted By: Jagran