जागरण संवाददाता, पौड़ी: विकासखंड कोट के घुसगलीखाल में सोमवार को मकरैंण मेले के तहत आयोजित ढोल सागर की गूंज से पूरी घाटी सराबोर हुई। इसके अलावा सुबह से ही दुर्गा मंदिर में पूजा-अर्चना को लेकर दूर-दूर के गांवों से श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ पड़ा। इस दौरान महिला मंगल दलों ने मंदिर में भजन कीर्तन की प्रस्तुति से माहौल को भक्तिमय बनाया, वहीं खेलकूद प्रतियोगिताएं भी आकर्षण का केंद्र रही। मंगलवार को कार्यक्रम का समापन होगा।

श्री दुर्गा मंदिर मकरैंण मेला समिति घुसगलीखाल की ओर से छह जनवरी से मकरैंण मेले के तहत क्रिकेट, वॉलीबाल प्रतियोगिता का आयोजन कराया जा रहा है। सोमवार को क्षेत्र के विभिन्न विद्यालयों, ग्राम सभाओं के अलावा महिला मंगल दलों के सांस्कृतिक कार्यक्रम ने मकरैंण मेले को यादगार बना दिया। इतना ही नहीं सुबह से ही मंदिर में शुरू हुआ पूजा-अर्चना का दौर शाम तक चलता रहा। सभी ने मंदिर में पूजा की और मनौतियां मांगी। इस सबके बीच आयोजन की खास बात यह भी देखी गई कि पहाड़ी क्षेत्रों से मानों विलुप्त से हो रहे ढोल-सागर को देखने के लिए यहां हुजूम उमड़ पड़ा। आयोजन का समापन मंगलवार को मंदिर में पाठपूर्ति हवन, रस्साकसी प्रतियोगिता, क्रिकेट व वॉलीबाल प्रतियोगिता के फाइनल मुकाबले के साथ पुरस्कार वितरण के साथ होगा। कार्यक्रम में क्षेत्र प्रमुख पौड़ी संतोषी रावत बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुई। इस मौके पर आयोजन समिति के संयोजक अनुसूया प्रसाद सुंद्रियाल, अध्यक्ष मकान ¨सह, सचिव कमल रावत, उपाध्यक्ष हुकम ¨सह, कोषाध्यक्ष नेत्र ¨सह, कैलाश सुंद्रियाल, विलेश्वर पटवाल, संजय नेगी, सुमन, नीरज आदि शामिल थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप