पौड़ी, [जेएनएन]: रामकुंड-कादेखाल पंपिंग पेयजल योजना के निर्माण की मांग को लेकर एक ग्रामीण टावर पर चढ़ गया। इससे पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया।

गौरतलब है कि रामकुंड-कादेखाल पंपिंग पेयजल योजना के निर्माण की मांग को लेकर ग्रामीण आंदोलित हैं। शासन स्तर पर हुई वार्ता के बाद भी अभी तक योजना का निर्माण शुरू नहीं हुआ। इससे खफा कई गांवों के ग्रामीणों ने 22 अगस्‍त को सबधरखाल में जमकर नारेबाजी की थी और क्रमिक धरने पर बैठ गए थे। उन्होंने कहा कि जल्दी ही शासन-प्रशासन ने उनकी मांग पर अमल नहीं किया तो उन्हें अनशन जैसे कदम उठाने को बाध्य होना पड़ेगा।

ग्रामीणों का कहना था कि कोट ब्लॉक के अंतर्गत सबधरखाल और इससे लगे दर्जनों गांवों के ग्रामीण सालों से पेयजल किल्लत से जूझ रहे हैं। उनका कहना था कि हर बार गर्मियां शुरू होते ही स्थिति और भी परेशानी भरी हो जाती है, लेकिन ग्रामीणों की इस समस्या को नजरअंदाज किए जाने से प्रभावित गांवों के लोग काफी आहत हैं। आंदोलनकारी ग्रामीणों का कहना था कि पूर्व में पेयजल योजना के निर्माण की मांग को लेकर सबधरखाल में धरना-प्रदर्शन के अलावा आमरण अनशन भी शुरू किया गया। 

तब प्रशासन व शासन स्तर पर हुई वार्ता के बाद आंदोलित ग्रामीणों ने अपना आंदोलन समाप्त कर दिया। लेकिन काफी समय होने के बाद भी अभी तक न तो योजना को लेकर कोई पहल ही होती दिख रही है और न ही निर्माण कार्य शुरू हुआ। आज सुबह ग्रामीण लक्षमण सिंह बुटोला सबधरखाल में समीप एक टॉवर में चढ़ गया है। सूचना पर पुलिस प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे। ग्रामीण का मनाने का प्रयास कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: एम्स के बाहर विशाल पेड़ पर चढ़ा दिव्यांग, विस अध्यक्ष के हस्तक्षेप के बाद उतरा

यह भी पढ़ें: पेट्रोल लेकर कॉलेज की छत पर चढ़े अभाविप कार्यकर्ता

यह भी पढ़ें: चोबट्टाखाल में कॉलेज की छत पर चढ़े छात्र तो झुका कॉलेज प्रशासन

Posted By: Sunil Negi