संवाद सहयोगी, पौड़ी: परिवहन विभाग ने स्कूली वाहनों पर सख्त रुख अपना लिया है। विभाग का कहना है कि अधिकांश स्कूल संचालक स्कूली वाहन में अग्निशमन उपकरणों रखने के प्रति लापरवाह बने हुए हैं। वाहनों में अटेंडेंट का भी ध्यान नहीं रखा जा रहा है। परिवहन विभाग ने लापरवाही बरतने वालों के खिलाफ अभियान चलाकर कार्रवाई करने का निर्णय लिया है।

पौड़ी संभागीय क्षेत्र में करीब 36 स्कूली वाहन पंजीकृत हैं। स्कूली वाहनों में अक्सर मानकों की अनदेखी की शिकायत मिलती रहती है। सहायक परिवहन अधिकारी प्रवर्तन राजेंद्र विराटिया ने बताया कि स्कूली वाहनों में अटेंडेंट का होना आवश्यक है। जिन स्कूली वाहनों में अटेंडेंट नहीं होगा, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। स्कूली बसों में रखे गए अटेंडेंट को स्कूल प्रबंधन की ओर से पहचान पत्र भी जारी करना होगा। विराटिया ने कहा कि अधिकांश स्कूली वाहनों में फायर उपकरणों की अनदेखी की जा रही है, जो कि गंभीर विषय है। परिवहन विभाग जल्द ही स्कूली बसों की चेकिग का अभियान चलाकर कर मानकों की जांच करेगी। स्कूली वाहनों को मानकों की अनदेखी पर किसी भी प्रकार की रियायत नहीं दी जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस