जागरण संवाददाता, पौड़ी: जनरल ओबीसी एसोसिएशन के प्रांतीय अध्यक्ष दीपक जोशी ने कहा कि पदोन्नति में आरक्षण समाप्त किया जाना बड़ी जीत है। लेकिन, कैबिनेट की बैठक में पहला पद आरक्षित किए जाने की जानकारी मिली है। यह मान्य नहीं है। कोरोना वायरस को देखते हुए हड़ताल स्थगित की गई है। कहा कि मंत्रीमंडल की रिपोर्ट का अध्ययन करने के बाद एक अप्रैल से फिर से आंदोलन की योजना तैयार की जाएगी।

मंडल मुख्यालय पौड़ी के रामलीला मैदान में गुरुवार को जनरल ओबीसी कर्मचारियों की ओर से विजय दिवस का आयोजन किया गया था। इसके लिए सुबह से ही काफी संख्या में कर्मचारी, शिक्षक यहां पहुंचे तथा ढोल दमाऊ की थाप पर होली भी खेली।

इस बीच एसोसिएशन के प्रांतीय अध्यक्ष दीपक जोशी, महामंत्री वीरेंद्र गुसाईं, कोषाध्यक्ष सीएस असवाल भी यहां पहुंचे। दीपक जोशी ने कहा कि पदोन्नति में आरक्षण समाप्त करना, कर्मचारियों की बड़ी जीत है। जिसमें जन सहयोग भी मिला। कहा कि गुरुवार को कैबिनेट की बैठक में पहला पद आरक्षित किए जाने की जानकारी मिली है। कहा कि यह किसी भी सूरत में मान्य नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रांतीय नेतृत्व मंत्रीमंडल की रिपोर्ट का आंकलन करेगी। इसके अलावा विधिक राय भी ली जाएगी।

प्रांतीय महामंत्री वीरेंद्र गुसाईं ने कहा कि पौड़ी शहर से इस आंदोलन में क्रांति की गई। कहा कि सरकार कहीं न कहीं योग्यता पर कुठाराघात कर रही है। इससे पूर्व प्रांतीय नेतृत्व का यहां पहुंचने पर जनपदीय शाखा ने उनका फूलमालाओं से स्वागत किया।

इस मौके पर मुख्य संयोजक सीताराम पोखरियाल, अध्यक्ष सोहन सिंह रावत, उपाध्यक्ष जयदीप रावत, प्रेम चंद्र ध्यानी, रेवती नंदन डंगवाल, जसपाल रावत, दीपक नेगी, संजय नेगी, प्रजापति कुकरेती, कमला नेगी, मेहरबान भंडारी, आरपी गोदियाल आदि शामिल थे। कोरोना के प्रकोप के बाद भी जुटे रहे कर्मी

रामलीला मैदान में जनरल ओबीसी कर्मचारियों द्वारा पदोन्नति में आरक्षण समाप्त किए जाने पर विजय दिवस का आयोजन किया गया। कोरोना वायरस के प्रकोप के बावजूद भी यहां काफी संख्या में कर्मचारी शामिल हुए। यहां वे ढोल-दमाऊ की थाप पर काफी देर तक खुशी में झूमते रहे। सायं को प्रांतीय नेतृत्व की मौजूदगी में शहर में कर्मचारियों ने होली खेलने के साथ ही विजय रैली भी निकाली।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस