जागरण संवाददाता, श्रीनगर गढ़वाल: कोरोना से छात्र-छात्राओं की सुरक्षा को लेकर विश्वविद्यालय प्रशासन ने व्यापक व्यवस्थाएं करने के साथ ही पहली बार चौरास परिसर में भी परीक्षा केंद्र बनाया है। मुख्य परीक्षा केंद्र बिड़ला परिसर श्रीनगर के साथ ही 19 सितंबर से शुरू हो रही विश्वविद्यालय की फाइनल सेमेस्टर की व्यावसायिक पाठ्यक्रमों की परीक्षाएं चौरास परिसर के तीन मंजिले अभियांत्रिकी भवन में होने जा रही है। जिसे लेकर बुधवार को विश्वविद्यालय के चीफ प्राक्टर प्रो. अरुण बहुगुणा ने प्रॉक्टोरियल बोर्ड के सदस्यों के साथ ही विवि सुरक्षा अधिकारी और सुरक्षा कर्मियों के साथ कोविड 19 से बचाव को लेकर की गई व्यवस्थाओं के संदर्भ में मॉकड्रिल भी की। तीन मंजिले अभियांत्रिकी भवन परीक्षा केंद्र के सम्मुख परीक्षार्थियों को शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करते हुए सूचना पट पर अपने परीक्षा कक्ष और सीटों का पता करना होगा। परीक्षा कक्ष में जाते समय भी शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करते हुए परीक्षार्थी गुजरेंगे। विश्वविद्यालय के चीफ प्राक्टर प्रो. अरुण बहुगुणा ने चौरास परिसर परीक्षा केंद्र में कोविड 19 सुरक्षा का संपूर्ण जिम्मा प्रो. राजपाल सिंह नेगी को दिया है।

चौरास परिसर में परीक्षा केंद्र का निरीक्षण करने के उपरांत चीफ प्राक्टर प्रो. अरुण बहुगुणा ने कहा कि प्रत्येक परीक्षार्थी के साथ ही परीक्षा व्यवस्था से संबंधित हर व्यक्ति को थर्मल स्क्रीनिग के बाद ही प्रवेश दिया जाएगा। उन्हें सैनिटाइजेशन व्यवस्था से भी गुजरना होगा। हर व्यक्ति को मास्क पहनना अनिवार्य है। प्रो. अरुण बहुगुणा ने कहा कि विवि नियंता बोर्ड की टीम परीक्षा शुरू होने से एक घंटा पहले मुख्य बेरिकेडिग गेट पर उपस्थित रहकर व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करवाएंगे। प्रो. राजपाल नेगी के साथ ही प्रो. अतुल ध्यानी, प्रो. पीसी लखेड़ा, डॉॅ. दीपक भंडारी, डॉ. पूजा सकलानी, डॉ. एसके मीणा, डॉ. एससी सती, डॉ. हिमशिखा गुसार्इं, विवि सुरक्षा अधिकारी हेम जोशी, अवर अभियंता राजेंद्र प्रसाद भी इस अवसर पर उपस्थित थे। फोटो - 16 एस.आर.आई.-3

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस