जागरण संवाददाता, श्रीनगर गढ़वाल: कोरोना वायरस संक्रमण के विश्वव्यापी प्रभाव से सामाजिक, राजनीतिक और आर्थिक व्यवस्था बुरी तरह प्रभावित हो रही है। मानव जीवन पर भी कोरोना वायरस संक्रमण ने प्रभाव डाला है। गढ़वाल केंद्रीय विश्वविद्यालय आगामी 25 मई से इसी विषय पर एक अंतर्राष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन करने जा रहा है।

देवभूमि विचार मंच के सहयोग से आयोजित हो रहे इस दो दिवसीय वेबिनार में विषय विशेषज्ञ कोविड 19 के मानव जीवन पर पड़ रहे प्रभावों के व्यापक पक्षों पर मंथन भी करेंगे। गढ़वाल केंद्रीय विवि की कुलपति प्रो. अन्नपूर्णा नौटियाल के संरक्षण में आयोजित हो रहे इस अंतर्राष्ट्रीय वेबिनार में विषय विशेषज्ञ प्रतिभाग कर रहे हैं।

दो दिनों तक चलने वाले इस अंतर्राष्ट्रीय वेबिनार के संयोजक और गढ़वाल केंद्रीय विवि चौरास परिसर के निदेशक प्रोफेसर डॉ. दिनेश सकलानी ने कहा कि डॉ. जे. नंद कुमार कार्यशाला के मुख्य अतिथि होंगे। इस कार्यशाला में एसजीआरआर विवि दून के कुलपति डॉ. उदय सिंह रावत, अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त मनोवैज्ञानिक और राष्ट्रीय राजीव गांधी युवा विकास संस्थान तमिलनाडु के निदेशक प्रो. शिवनाथ देव, पर्यावरण विशेषज्ञ बीएचयू के प्रो. अखिलेश रघुवंशी, कुमाऊं विवि के पूर्व कुलपति प्रो. डीके नौटियाल प्रतिभाग करेंगे। वेबिनार के संयोजक और प्रख्यात इतिहासविद प्रो. दिनेश सकलानी ने कहा कि वैश्विक महामारियों और आपदाओं का इतिहास मानव समाज के साथ ही शुरू हो गया था। कार्यशाला के माध्यम से ऐसी समस्याओं की समग्रता को समझने में भी सहायता मिलती है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस